Hug Day 2021: दिन में कितनी बार Hug करना है जरूरी? गले लगने से दिल से लेकर दिमाग तक रहता है दुरुस्त

वैलेंटाइन वीक (Valentine Week) में हर दिन को खास तरीके से मनाया जाता है. 12 फरवरी को हग डे (Happy Hug Day 2021) के तौर पर मनाने की परंपरा है. इस खास अवसर पर लोग एक-दूसरे को गले (Hug) लगाकर अपनी भावनाएं व्यक्त करते हैं. जादू की झप्पी आपके दिल और दिमाग को दुरुस्त रखती है (Benefits Of Hug).

Hug Day 2021: दिन में कितनी बार Hug करना है जरूरी? गले लगने से दिल से लेकर दिमाग तक रहता है दुरुस्त
दिन में कितनी बार गले लगना है जरूरी

नई दिल्ली: अपनों को गले लगाने (Hug) से इंसान सुकून महसूस करता है. उसकी सारी थकान, दर्द और परेशानियां पल भर में छूमंतर हो जाती हैं. वैलेंटाइन वीक (Valentine Week) में 12 फरवरी को हग डे (Happy Hug Day 2021) मनाया जाता है. इस दिन (Hug Day) लोग अपने करीबियों को गले लगाकर अपने पास होने का अहसास कराते हैं.

बेहद फायदेमंद है किसी के गले लगना

लोग खुशी और गम के मौके पर अपने करीबियों को गले लगाकर (Hug) उनसे अपनी भावनाएं व्यक्त करते हैं. किसी को विश करना हो, किसी को ढांढस बंधाना हो, किसी से अपने दिल की बात कहनी हो, किसी पर प्यार बरसाना हो, किसी का तनाव कम करवाना हो.. इन सभी का मोल बढ़ जाता है, जब हम किसी को गले लगा लेते हैं.

किसी को हग करने (Hugging) का मतलब है कि आप उसके प्रति अपना प्यार और अपनापन दर्शा रहे हैं. लेकिन इस अपनेपन की भावना के अलावा भी हगिंग (Hugging) बहुत फायदेमंद होती है. गले लगने से दिल और दिमाग को काफी फायदा (Benefits Of Hug) मिलता है.

यह भी पढ़ें- लाल गुलाब से इजहार-ए - मोहब्बत तक, वैलेंटाइन वीक कलैंडर के अनुसार करें Love Festival सेलिब्रेट

दिन में कितनी बार हगिंग है जरूरी

इंसान को हर दिन जीवित रहने के लिए कम से कम 4 बार गले मिलना जरूरी है. इतना ही नहीं, अगर आप चाहते हैं कि आपका पालन-पोषण सही तरीके से हो और लाइफ में किसी तरह की दिक्कत न आए तो हर दिन कम से कम 8 बार गले जरूर मिलें. अगर आप चाहते हैं कि आपका विकास बेहतर तरीके से हो तो हर दिन में कम से कम 12 बार गले लगना जरूरी है. जानिए हगिंग के फायदे (Benefits Of Hug).

हगिंग से खत्म होती है घबराहट

गले मिलना सिर्फ अहसास नहीं है. यह आपकी सेहत को भी दुरुस्त रखता है. गले मिलने से शरीर में प्रवाहित हो रहे ब्लड में ऑक्सिटोसिन (Oxytocin) का स्त्राव होता है, जिसकी वजह से व्यक्ति का बढ़ा हुआ ब्लड प्रेशर (Blood Pressure) कम हो जाता है और उसे तनाव (Stress) और घबराहट जैसी परेशानियां भी नहीं होती हैं. गले मिलने से मस्तिष्क की नसें (Brain Nerves) मजबूत होती हैं और मेमोरी (Memory) भी मजबूत होती है.

यह भी पढ़ें- इन तरीकों से करें अपने प्यार का इजहार, Crush नहीं कर पाएगा इंकार

गले लगने से तनाव होगा कम

किसी के गले लगने से व्यक्ति का स्ट्रेस लेवल (Stress Level) कम होता है. सिर्फ यही नहीं, गले लगने से इंफेक्शन (Infection) की आशंका भी कम हो जाती है. दरअसल, एक प्यार भरा हग सामने वाले को बहुत ज्यादा खुशी देता है, जिससे उनके शरीर में ऑक्सिटोसिन नाम का हॉर्मोन (Hormone) उत्पन्न होता है, जो इंसान को तनाव से बचाने में मदद करता है. स्ट्रेस कम होने से लाइफ भी स्मूद हो जाती है.

यह दिल का मामला है जी

हग करने से शरीर में लव हॉर्मोन (Love Hormone) यानी ऑक्सिटोसिन का स्तर बढ़ता है. इससे दिल सेहतमंद रहता है. जब आप किसी को गले लगाते हैं तो उनके शरीर में ब्लड सर्कुलेशन (Blood Circulation) तेज हो जाता है. ऐसा होने से शरीर में ऑक्सीजन (Oxygen) का स्तर सही बना रहता है. इससे दिल संबंधी बीमारियों की आशंका कम हो जाती है और ब्लड प्रेशर (Blood Pressure) भी कंट्रोल में रहता है.

यह भी पढ़ें- Valentine Week में एक-दूसरे से करें ये वादे, खुशियां और प्यार रहेगा बरकरार

शरीर को मिलता है आराम

किसी को हग करते समय हमारी मांसपेशियां पूरे शरीर में तन जाती है. इससे शरीर को आराम मिलता है और व्यक्ति रिलैक्स महसूस करता है.

गले लगने के लिए प्रोफेशनल्स का सहारा

हमारे जीवन में गले लगने (Hugs) की इतनी कमी हो गई है कि अब एक नया प्रोफेशन शुरू हो गया है. इसे कडलिस्ट (Cuddlist) नाम दिया गया है. इसमें पैसे लेकर लोगों को लगाया जाता है.

लाइफस्टाइल से जुड़े अन्य लेख पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.