Nail Paint का ज्यादा इस्तेमाल बन सकता है जानलेवा! यहां जानें इससे होने वाले बड़े नुकसान

अधिकतर लड़कियां खूबसूरत दिखने के लिए किसी न किसी ब्रैंड का नेल पेंट (Nail Paint) या नेल पॉलिश लगाती हैं. इसका ज्यादा इस्तेमाल उन्हें मुसीबत में भी डाल सकता है.

Nail Paint का ज्यादा इस्तेमाल बन सकता है जानलेवा! यहां जानें इससे होने वाले बड़े नुकसान

नई दिल्ली: नाखूनों पर नेल पेंट (Nail Paint) लगाना आजकल स्मार्ट दिखने का एक पैमाने जैसा बन गया है. अधिकतर लड़कियां खूबसूरत दिखने के लिए किसी न किसी ब्रैंड का नेल पेंट या नेल पॉलिश लगाती हैं. बहुत कम लोगों को पता होगा कि नेल पेंटिंग की यह आदत हमारे लिए नुकसानदायक (Side Effects of Nail Paint) भी हो सकती है. 

कमजोर हो जाते हैं नाखून

दरअसल नेल पेंट (Nail Paint) के ज्यादा इस्तेमाल से नाखून कमजोर हो जाते हैं. धीरे-धीरे वे क्रैक होने लगते हैं और उनकी शाइनिंग खत्म होती जाती है. इसके साथ ही नाखूनों पर की गई नेल पेंटिंग शरीर के अंदरुनी हिस्सों को भी बड़ा नुकसान पहुंचाती है. आइए जानते हैं कि नेल पेंटिंग से हमारे शरीर को क्या नुकसान (Side Effects of Nail Paint) भुगतने पड़ सकते हैं. 

नेलपेंट में Formaldehyde नाम का ऐसा केमिकल यूज होता है, जिसका इस्‍तेमाल Preservative के तौर पर किया जाता है. त्वचा के संपर्क में आने पर इस केमिकल से खुजली की समस्या हो सकती है. 

शरीर के Nervous System को नुकसान

नेल पेंट (Nail paint) में Toluene नाम का रसायन मिलाया जाता है. यह रसायन हमारे नाखूनों के सेल्स के जरिए शरीर की अन्य कोशिकाओं से अपना संपर्क बना लेता है. जिसके बाद ये सेंट्रल नर्व्स सिस्टम (Nervous System) को नुकसान पहुंचा सकता है.

नेल पेंट बनाने में Spirit का इस्तेमाल किया जाता है, जो फेफड़ों को बुरी तरह से प्रभावित करता है. नेल पॉलिश में मौजूद केमिकल्स अगर मुंह और पेट में चले जाएं तो न्यूरो, गट और सांस से जुड़ी प्रॉब्लम्स हो सकती है. 

ये भी पढ़ें- Moon Milk: अगर आपको भी नहीं आती रात में नींद, तो करिए इस चमत्कारी दूध का सेवन; मिलेगा फायदा

Colorectal Cancer का भी खतरा

नेल पॉलिश (Nail Polish) को तैयार करने के लिए एक्रेलेट्स केमिकल का भी इस्तेमाल होता है. सांसों के जरिए और स्किन के टच में आने से यह केमिकल शरीर को काफी नुकसान पहुंचाता है. इससे महिलाओं को कोलोरेक्टल कैंसर (Colorectal Cancer) का रिस्क बना रहता है. 

नेल पॉलिश (Nail Polish) में फॉर्मलडिहाइड केमिकल भी होता है. इसके टच में रहने से मायलोइड ल्यूकेमिया (Myeloid Leukemia) यानी बोन मैरो, रेड ब्लड सेल्स, व्हाइट ब्लड सेल्स और प्लेटलेट्स (Platelets) की कमी से जुड़ी दिक्कतें बढ़ जाती हैं. 

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं पर आधारित है. इसे अपनाने से पहले चिकित्सीय सलाह जरूर लें. ZEE NEWS इसकी पुष्टि नहीं करता है.)

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.