नवजोत कौर सिद्धू ने कहा, 'अमरिंदर सिंह की वजह से नहीं मिला लोकसभा का टिकट'

 नवजोत कौर सिद्धू ने कहा कि मुख्यमंत्री का मानना है कि वह खुद अकेले ही पार्टी को सूबे की सभी 13 सीटों पर जिता सकते हैं.

नवजोत कौर सिद्धू ने कहा, 'अमरिंदर सिंह की वजह से नहीं मिला लोकसभा का टिकट'
नवजोत कौर सिद्धू (फाइल फोटो)

चंडीगढ़: कांग्रेस नेता नवजोत कौर सिद्धू ने मंगलवार को एक विवाद को हवा देते हुए आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और पार्टी महासचिव पंजाब प्रभारी आशा सिंह ने पुख्ता इंतजाम किया था कि उन्हें अमृतसर संसदीय सीट से टिकट न मिले.

उन्होंने अमृतसर में  कहा,‘कैप्टन साहिब और आशा कुमारी सोचती हैं कि मैडम सिद्धू संसदीय सीट का टिकट पाने की हक़दार नहीं हैं. मुझे अमृतसर से टिकट इसलिए नहीं दिया गया कि मैं बीते साल अमृतसर में हुए दशहरा रेल हादसे से पैदा हुई नाराजगी की वजह से जीत नहीं पाऊंगी.’

अमरिंदर पर साधा निशाना
पंजाब के मंत्री और पूर्व सलामी बल्लेबाज नवजोत सिंह सिद्धू की पत्नी कौर ने कहा कि मुख्यमंत्री का मानना है कि वह खुद अकेले ही पार्टी को सूबे की सभी 13 सीटों पर जिता सकते हैं.

उन्होंने इस सूबे में पार्टी के चुनाव प्रचार से दूरी बरतने की ओर इशारा करते हुए कहा,‘देखिए, अमरिंदर सिंह हमारे जूनियर कप्तान हैं. राहुल गांधी हमारे सीनियर कप्तान हैं. हमारे जूनियर कप्तान ने कहा है कि वे खुद से 13 सीटें जिता सकते हैं.’ 

'सिद्धू साहब वहां जाएंगे जहां राहुल उनसे जाने को कहेंगे'
इस नाखुश कांग्रेस नेता ने कहा,‘कैप्टन साहिब प्रचार करेंगे. आशा कुमारी भी स्टार प्रचारक हैं. सिद्धू साहब वहां जाएंगे जहां राहुल उनसे जाने को कहेंगे.’  कौर ने चंडीगढ़ लोकसभा सीट के लिए टिकट का दावा किया था लेकिन पार्टी ने पूर्व रेल मंत्री पवन कुमार बंसल को इसके लिए चुना. बंसल चंडीगढ़ से चार बार सांसद रह चुके हैं. 

अमृतसर में कांग्रेस ने मौजूदा सांसद गुरजीत सिंह को शिरोमणि अकाली दल-भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार हरदीप सिंह पुरी के सामने उतारा है. उनके पति नवजोत सिंह सिद्धू अमृतसर से तीन बार सांसद रह चुके है. 

पंजाब की 13 लोकसभा सीटों पर 19 मई को वोट डाले जाएंगे.