close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अरूणाचल में बीजेपी प्रचंड बहुमत की ओर, लेकिन सब भी सामने है ये चुनौती

अरुणाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए मतगणना जारी है और ताजा रुझान के अनुसार, सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) 13 विधानसभा क्षेत्रों पर आगे चल रही है. तीन सीटों पर जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के उम्मीदवार आगे चल रहे हैं. अरुणाचल प्रदेश की 60 सदस्यीय विधानसभा में सत्तारूढ़ भाजपा तीन सीटों पर निर्विरोध जीत चुकी है. 

अरूणाचल में बीजेपी प्रचंड बहुमत की ओर, लेकिन सब भी सामने है ये चुनौती
फाइल फोटो

ईटानगर : अरुणाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए मतगणना जारी है और ताजा रुझान के अनुसार, सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) 13 विधानसभा क्षेत्रों पर आगे चल रही है. तीन सीटों पर जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के उम्मीदवार आगे चल रहे हैं. अरुणाचल प्रदेश की 60 सदस्यीय विधानसभा में सत्तारूढ़ भाजपा तीन सीटों पर निर्विरोध जीत चुकी है. 

चुनाव आयोग से प्राप्त रुझानों के अनुसार, नामसाई जिले की चौखम सीट से उप मुख्यमंत्री चौना मेइन अपने निकटतम प्रतिद्वन्द्वी कांग्रेस के खुनंग क्री से 7,291 वोट से आगे चल रहे हैं. तवांग जिले की लुम्ला विधानसभा सीट से भाजपा के जांबे टाशी एनपीपी के जाम्पा थिरनलय कुनखाप से 1,129 वोट से आगे हैं. ईटानगर सीट से जनता दल यूनाइटेड के तेची कासो भाजपा के किपा बाबू से 302 वोट से आगे चल रहे हैं. कासो इस सीट से मौजूदा विधायक हैं. 

राज्य के गृह मंत्री और एनपीपी उम्मीदवार कुमाई वाई भाजपा के गोरदुक पोरदंग से 297 वोट से पीछे चल रहे हैं. शिक्षा मंत्री होनचुन नगंडम पोंगचाओ-वक्‍का सीट से 2,104 वोट से आगे हैं जबकि पीएचई मंत्री वांगकी लोवांग नामसांग सीट सेचौना मेइन 1,682 वोट से आगे हैं. बोरदुमसा-दियुन सीट से निर्दलीय उम्मीदवार सोमलुंग मोस्सांग भाजपा के जवारा माइयो से 1,731 वोट से आगे हैं. भाजपा के न्यामार कारबाक लिरोमोबा सीट पर एनपीपी के जारपुम गामलिन से 897 वोट से आगे हैं 

दाम्बुक सीट से भाजपा उम्मीदवार एवं मौजूदा विधायक गुम तायेंग एनपीपी के टोनी पेरटिन से 852 वोट से आगे हैं. इसी तरह दोइमुख विधानसभा क्षेत्र में भाजपा के ताना हाली तारा नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) के नबाम विवेक से आगे चल रहे हैं. राज्य की 60 विधानसभा सीटों में भाजपा पहले ही तीन सीट पर निर्विरोध रहकर खाता खोल चुकी है. अलोंग पूर्व क्षेत्र से केंटो जिनी, याचुली सीट से ताबा तेदिव और दिरांग सीट से फुरपा त्सेरिंग को निर्विरोध जीत मिली है. 

बीजेपी के सामने है चुनौती
अरुणाचल प्रदेश में बीजेपी के सामने कई सारी चुनौतियां हैं. लेकिन सबसे पहली चुनौती ये है कि मुख्यमंत्री के पद पर कौन आसीन होगा. क्योंकि अरुणाचल में बीजेपी के सामने कई सारे चेहरे हैं, जो सीएम पद की रेस में शामिल हैं.