मायावती के बाद अब जमात-ए-इस्लामी ने मुस्लिमों से की अपील, 'महागठबंधन को दें वोट'

इससे पहले बीएसपी प्रमुख मायावती ने सहारनपुर की रैली में कहा था कि मुस्लिमों का वोट बंटना नहीं चाहिए. 

मायावती के बाद अब जमात-ए-इस्लामी ने मुस्लिमों से की अपील, 'महागठबंधन को दें वोट'

नई दिल्लीः लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) में धर्म और जाति के आधार पर वोट देने की बात चाहे हम कितना ही नकारते रहें, लेकिन कोई ना कोई धार्मिक संगठन या नेता धर्म या जाति के आधार पर वोट देने की अपील कर ही देता है. ताजा मामला मुसलमानों के धार्मिक संगठन जमात-ए-इस्लामी हिंद का समाने आया है. जमात-ए-इस्लामी हिंद ने मुसलमानों से धर्म के नाम पर वोट डालने की अपील की है. मुस्लिम संगठन ने चिट्ठी लिखकर अपील की है कि मुसलमान महागठबंधन को वोट करें. 

आपको बता दें कि इससे पहले बीएसपी प्रमुख मायावती ने सहारनपुर की चुनावी रैली में मुस्लिम समुदाय से अपील की थी कि उनका वोट बंटना नहीं चाहिए.

वहीं सीएम योगी ने मेरठ में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस-बीएसपी-एसपी महागठबंधन को 'अली' पर विश्वास है, तो हमें भी 'बजरंगबली' पर विश्वास है. महागठबंधन और कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि दूसरे दलों ने ये मान चुके हैं, कि बजरंगबली के अनुयायी उन्हें वोट नहीं देंगे. 

खत्म होना चाहिए हरा वायरस
मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि ये वे लोग (महागठबंधन) हैं, जो मुस्लिम लीग जैसे हरे वायरस के साथ मिलकर देश को बर्बाद करना चाहते हैं. अब समय आ गया है कि इस हरे वायरस को सदैव के लिए खत्म किया जाना चाहिए.

हिंदुओं के पास नहीं हैं विकल्प
सीएम योगी ने कहा कि जिस तरह बीएसपी प्रमुख मायावती ने मुस्लिमों के लिए वोट मांगे हैं. मुस्लिमों से कहा है कि वे सिर्फ गठबंधन के लिए वोट करें और अपना वोट बंटने न दें. अब हिंदुओं के पास भारतीय जनता पार्टी के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा है.