close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लालू प्रसाद यादव : 1977 में पहली बार छपरा से बने थे सांसद

लालू यादव फिलहाल चारा घोटाला के विभिन्न मामलों में सजायाफ्ता हैं. लालू यादव के परिवार में उनकी सात बेटियां और दो बेटे हैं.

लालू प्रसाद यादव : 1977 में पहली बार छपरा से बने थे सांसद
लालू प्रसाद यादव, अध्यक्ष (आरजेडी) (फाइल फोटो)

11 जून 1948 को बिहार के गोपालगंज जिले में एक साधारण परिवार में लालू प्रसाद यादव का जन्म हुआ. उन्होंने छात्र राजनीति से अपने सियासी सफर की शुरुआत की. इमरजेंसी के बाद 1977 में देश में हुए लोकसभा चुनाव में पहली बार छपरा से वह सांसद बने थे. इसके बाद उन्होंने पीछे मुरकर नहीं देखा. वह दो बार बिहार के मुख्यमंत्री और एक बार देश के रेल मंत्री बने.

लालू यादव पहली बार 1990 से 1995 तक और दूसरी बार 1995 से 1997 तक बिहार के मुख्यमंत्री रहे. इसके बाद वह केंद्र की यूपीए सरकार में 2004 से 2009 तक रेलमंत्री पद पर रहे. 1997 में उन्होंने जनता दल से अलग होकर राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) का गठन किया.

पार्टी के गठन से लेकर आज तक वह अपनी पार्टी के अध्यक्ष है. लालू यादव फिलहाल चारा घोटाला के विभिन्न मामलों में सजायाफ्ता हैं. लालू यादव के परिवार में उनकी सात बेटियां और दो बेटे हैं.

इन दिनों लालू प्रसाद यादव चारा घोटाला के विभिन्न मामलों में सजायाफ्ता हैं. कानूनन आरजेडी अध्यक्ष चुनाव नहीं लड़ सकते हैं. पार्टी की जिम्मेदारी उनके छोटे बेटे तेजस्वी यादव संभाल रहे हैं.