लोकसभा चुनाव 2019: कांग्रेस की 7वीं लिस्ट जारी, मुरादाबाद नहीं, फतेहपुर सीकरी से चुनाव लड़ेंगे राज बब्बर

सूत्रों के मुताबिक, यूपी कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर ने मुरादाबाद लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने से मना कर दिया था, जिसके बाद पार्टी ने उन्हें फतेहपुर सीकरी से चुनाव लड़ाने का फैसला किया.

लोकसभा चुनाव 2019: कांग्रेस की 7वीं लिस्ट जारी, मुरादाबाद नहीं, फतेहपुर सीकरी से चुनाव लड़ेंगे राज बब्बर
यूपी कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर की फाइल फोटो.

नई दिल्ली/मुरादाबाद: लोकसभा चुनाव 2019 के लिए पार्टियां अपने-अपने प्रत्याशियों के सूची जारी कर रहे है. इसी कड़ी में शुक्रवार (22 मार्च) देर रात कांग्रेस ने अपनी 7वीं सूची जारी की. इस सूची में 35 उम्मीदवारों के नाम शामिल हैं, जिसमें दो अहम बदलाव किए गए है. कांग्रेस के आलाकमान ने प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राज बब्बर की सीट बदल दी है. राज बब्बर अब उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद से लोकसभा का चुनाव नहीं लड़ेंगे. पार्टी ने उन्हें फतेहपुर सीकरी से मैदान में उतारा है.

Lok Sabha Elections 2019: Congress releases 7th list, Raj Babbar to contest from Fatehpur Sikri

सूत्रों के मुताबिक, यूपी कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर ने मुरादाबाद लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने से मना कर दिया था, जिसके बाद पार्टी ने ये फैसला किया. बताया जा रहा है कि राज बब्बर मुरादाबाद के समीकरण से डर गए थे. फतेहपुर सीकरी में बीजेपी और सपा-बसपा गठबंधन में बसपा की तरफ से घोषित जाट उम्मीदवार को लेकर राज बब्बर ने नए समीकरण में अपनी उम्मीदवारी की अर्जी लगाई और नेतृत्व ने उसे मंजूर कर लिया. ये माना जा रहा है कि बीजेपी प्रत्याशी राजकुमार चाहर को टक्कर देने के लिए अब राज बब्बर को मोर्चे पर लगाया गया है.

Lok Sabha Elections 2019: Congress releases 7th list, Raj Babbar to contest from Fatehpur Sikri

राज बब्बर अभी तक मुरादाबाद से प्रत्याशी थे. राज बब्बर की जगह अब मुरादाबाद से मशहूर शायर और कवि इमरान प्रतापगढ़ी चुनाव लड़ेंगे. वहीं, बिजनौर सीट से अब नसीमुद्दीन सिद्दीकी चुनावी मैदान में हैं. पहले यहां से इंदिरा भाटी कांग्रेस की उम्मीदवार थीं.

 

आपको बता दें कि साल 2009 में राज बब्बर फतेहपुर सीकरी संसदीय सीट से चुनाव लड़ चुके हैं. हालांकि, तब भी उन्हें बसपा के प्रत्याशी के हार का सामना करना पड़ा था. वहीं, युवाओं के बीच लोकप्रियता और मुस्लिम समाज से आने की वजह से पीतलनगरी सीट पर इमरान प्रतापगढ़ी एक मजबूत प्रत्याशी के रूप में देखे जा रहे हैं. अखिलेश सरकार में दौरान साल 2016 में यश भारती पुरस्कार से नवाजे जा चुके हैं.