close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मध्‍य प्रदेश: किसान ने कर्जमाफी पर उठाए सवाल तो सिंधिया की सभा से किसान को भगाया

मध्य प्रदेश की गुना लोकसभा मैं जब कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया के सामने एक किसान ने सरकार पर वादा पूरा न करने का आरोप जड़ा तो सिंधिया के सामने ही उनके कार्यकर्ताओं ने उस किसान को धक्‍के मारकर भगा दिया.  

मध्‍य प्रदेश: किसान ने कर्जमाफी पर उठाए सवाल तो सिंधिया की सभा से किसान को भगाया
ज्‍योति‍रादित्‍य स‍िंध‍िया की सभा में दो किसानों ने कर्जमाफी पर सवाल उठाए.

दीपक अग्रवाल, गुना: विधानसभा चुनाव में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने घोषणा की थी कि 10 दिन के अंदर किसानों का ₹200000 तक का कर्ज  माफ कर दिया जाएगा. अब उसी वादे पर मध्‍यप्रदेश की राजनीति में संग्राम छिड़ा हुआ है. बीजेपी जहां इस दावे पर सवाल खड़े कर रही है. वहीं कांग्रेस कह रही है कि उसका दावा पुख्‍ता है.

भोपाल में मुख्यमंत्री कमलनाथ किसान गांव के नामों के बंडलों को शिवराज सिंह के पास भेज रहे हैं. वहीं शिवराज इन पुलिंदो को झूठा बता रहे हैं. लोकसभा चुनाव 2019 जमीनी स्तर पर भी इस वादे की आंच पहुंच रही है. इतना ही नहीं कांग्रेस के बड़े नेताओं को इसका जवाब भी नहीं सूझ रहा है. ऐसा ही कुछ कांग्रेस सांसद ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया के साथ हुआ. मध्य प्रदेश की गुना लोकसभा मैं जब कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया के सामने एक किसान ने सरकार पर वादा पूरा न करने का आरोप जड़ा तो सिंधिया के सामने ही उनके कार्यकर्ताओं ने उस किसान को धक्‍के मारकर भगा दिया.  

मामला उस समय का है जब सिंधिया जनसभा को संबोधित करते हुए गुना लोकसभा के गांव करोद पहुंचे थे. वहां जब सभा चल रही थी तब एक किसान ने सांसद ज्योतिरादित्य के सामने अपनी कर्ज माफी को झूठा बताया. उसने अपने घर पर पुलिस द्वारा बार-बार चक्कर लगाने को लेकर ज्योतिरादित्य सिंधिया से कर्जमाफी के झूठ को लेकर जवाब मांगा. किसान के उग्र होते ही कांग्रेस के पदाधिकारी और कार्यकर्ता उस किसान पर आक्रामक हो गए. वह किसान को जबरदस्ती धक्का देकर सिंधिया के पास लेकर गए और  ज्योतिरादित्य सिंधिया ने किसान को चुपचाप कराने की कोशिश भी की. लेकिन वह किसान सिंधिया के बार बार कहने के बाद भी जमीन पर नहीं बैठा तो सिंधिया ने उसे पीछे धकेल दिया.

इसके बाद कांग्रेसी कार्यकर्ता उसे जबरदस्ती  सभा स्थल से बाहर  ले गए.  वहीं एक अन्य किसान ने भी जब किसानों की समस्याओं को लेकर विरोध किया तो ज्योतिरादित्य के कार्यकर्ताओं ने उसे भी बाहर सभा स्थल से ले जाकर चुप करा दिया. इस दौरान जी न्‍यूज के संवाददाता द्वारा घटना को कवर करते समय रोकने का प्रयास भी ज्योतिरादित्य सिंधिया के कांग्रेसी कार्यकर्ताओं द्वारा किया गया.