close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

'मैं नरेंद्र दामोदर दास मोदी ईश्‍वर की शपथ लेता हूं कि...'

गुजरात के मुख्‍यमंत्री रहे नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) 2014 मेें आज ही केे दिन देश के 14वें प्रधानमंत्री बने थे. तत्‍कालीन राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने उन्‍हें प्रधानमंत्री पद और गोपनीयता की शपथ दिलवाई थी.

'मैं नरेंद्र दामोदर दास मोदी ईश्‍वर की शपथ लेता हूं कि...'
26 मई, 2014 को नरेंद्र मोदी पहली बार बने थे प्रधानमंत्री. फाइल फोटो

नई दिल्‍ली : 'मैं नरेंद्र दामोदर दास मोदी...ईश्‍वर की शपथ लेता हूं कि...मैं विधि द्वारा स्थापित भारत के संविधान के प्रति सच्ची श्रद्धा और निष्ठा रखूंगा. मैं भारत की प्रभुता और अखंडता का अक्षुण्‍ण रखूंगा. मैं संघ के प्रधानमंत्री के रूप में अपने कर्तव्‍यों का श्रद्धापूर्वक और शुद्ध अंत:करण से निर्वहन करूंगा...तथा मैं भय या पक्षपात, अनुराग या द्वेष के बिना सभी प्रकार के लोगों के प्रति संविधान और विधि के अनुसार न्‍याय करूंगा.'

'मैं नरेंद्र दामोदर दास मोदी ईश्‍वर की शपथ लेता हूं कि जो विषय संघ के प्रधानमंत्री के रूप में मेरे विचार के लिए लाया जाएगा अथवा मुझे ज्ञात होगा उसे किसी व्‍यक्ति या व्‍यक्तियों को तबके सिवाय, जबकि प्रधानमंत्री के रूप में अपने कर्तव्‍यों के निर्वहन के लिए ऐसा करना अपेक्षित हो, मैं प्रत्‍यक्ष अथवा अप्रत्‍यक्ष रूप से संसूचित या प्रकट नहीं करूंगा.’' 

तारीख- 26 मई, 2014. दिन-सोमवार. स्‍थान-राष्ट्रपति भवन. समय- शाम के 06:13 बजे. तारीख भी खास थी और दिन भी. इस दिन देश को नरेंद्र मोदी के रूप में नया प्रधानमंत्री मिला था. गुजरात के मुख्‍यमंत्री रहे नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) इसी दिन देश के 14वें प्रधानमंत्री बने थे. राष्‍ट्रपति भवन में तत्‍कालीन राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने उन्‍हें प्रधानमंत्री पद और गोपनीयता की शपथ दिलवाई थी. सार्क देशों के प्रमुख भी उनके शपथ ग्रहण समारोह में शामिल हुए थे. इनमें पाकिस्‍तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ भी शामिल थे. शपथ ग्रहण समारोह शुरू होने से पहले लोगों ने ‘जय श्री राम’ का उद्घोष भी किया था.


2014 में पीएम मोदी के शपथ ग्रहण समारोह की तस्‍वीर. फाइल फोटो

यह भी पढ़ें : BJP ने यूं ही नहीं रच दिया इतिहास, PM मोदी और अमित शाह ने दिन-रात इस तरह की है मेहनत

2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी को 543 लोकसभा सीटों में से 282 सीटें हासिल हुई थीं. साथ ही एनडीए को कुल 336 सीटें मिली थीं. 2014 के चुनाव में देश में नरेंद्र मोदी की प्रचंड लहर देखने को मिली थी. 1984 के बाद यह सबसे बड़ा जनादेश था. चुनाव आयोग ने 16 मई, 2014 को चुनाव परिणामों की घोषणा की थी. नरेंद्र मोदी बीजेपी और एनडीए के संसदीय दल के नेता चुने जाने के बाद 20 मई, 2014 को तत्‍कालीन राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी से मिले थे. तबके राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने उन्‍हें सरकार बनाने का न्‍यौता दिया था. इसके बाद बीजेपी की ओर से घोषणा की गई थी कि नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ग्रहण समारोह 26 मई को होगा. 

लालकृष्ण आडवाणी को नरेंद्र मोदी का राजनीतिक गुरु माना जाता है. 7 अक्‍टूबर, 2001 को नरेंद्र मोदी पहली बार गुजरात के मुख्‍यमंत्री बने थे. गुजरात का मुख्यमंत्री रहते हुए नरेंद्र मोदी ने वाइब्रेंट गुजरात समिट आयोजित कर देश और विदेश के उद्योगपतियों को निवेश के लिए आकर्षित किया. 2007 के विधानसभा चुनाव जीत कर नरेंद्र मोदी दूसरी बार राज्य के मुख्यमंत्री बने. 20 दिसंबर, 2012 को मोदी ने गुजरात में तीसरी बार सीएम बनकर अपने नाम का डंका बजाया.

लोकसभा चुनाव 2019 (lok sabha elections 2019) में पीएम मोदी और बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह के नेतृत्‍व में बीजेपी और एनडीए ने ऐतिहासिक जीत दर्ज की है. इन चुनाव में बीजेपी को 303 सीटें हासिल हुई हैं. एनडीए को कुल 353 सीटें हासिल हुई हैं. वहीं कांग्रेस नीत यूपीए को महज 90 सीटें मिली हैं, जिनमें कांग्रेस को सिर्फ 52 सीटें मिलीं.