close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सिख दंगों के बयान पर राहुल गांधी ने सैम पित्रोदा से कहा-आपको शर्म आनी चाहिए

दिल्‍ली और पंजाब में हुए चुनावों के से पहले आए सैम पित्रोदा के इस बयान ने कांग्रेस की काफी फजीहत करा दी है. अब खुद कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने सैम पित्रोदा के इस बयान को शर्मनाक बताया है. उन्‍होंने कहा, सिख दंगों के दोष‍ियों को सजा मिलनी चाह‍िए.

सिख दंगों के बयान पर राहुल गांधी ने सैम पित्रोदा से कहा-आपको शर्म आनी चाहिए

खन्ना (पंजाब)/नई दिल्‍ली: सिख दंगाें पर कांग्रेस नेता सैम पित्रोदा का बयान पार्टी के लिए गले की हड्डी बन चुका है. खासकर दिल्‍ली और पंजाब में हुए चुनावों के से पहले आए इस बयान ने कांग्रेस की काफी फजीहत करा दी है. अब खुद कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने सैम पित्रोदा के इस बयान को शर्मनाक बताया है. उन्‍होंने कहा, सिख दंगों के दोष‍ियों को सजा मिलनी चाह‍िए.

भाजपा द्वारा लगातार कांग्रेस पर निशाना साधे जाने के बीच पार्टी प्रमुख राहुल गांधी ने सोमवार को कहा कि उन्हें (पित्रौदा) अपने आप पर शर्म आनी चाहिए और देश से माफी मांगनी चाहिए. गांधी का बयान पित्रौदा के ‘हुआ तो हुआ’ बयान पर पैदा हुए जनाक्रोश के बाद नुकसान भरपाई के तौर पर पंजाब में उनकी पहली रैली में आया है.  पंजाब में एक रैली के दौरान राहुल गांधी ने सैम पि‍त्रोदा के इस बयान पर सफाई पेश की. इस मुद्दे पर बीजेपी लगातार कांग्रेस पर हमले बोल रही है.

वैसे कांग्रेस प्रमुख ने ट्वीट कर उनकी टिप्पणी को अस्वीकृत कर दिया था और पार्टी ने भी टिप्पणी से दूरी बना ली थी. उन्होंने यहां अपने भाषण में कहा, ‘सैम पित्रौदा ने 1984 (सिख विरोधी दंगे) के बारे में जो कुछ कहा है, वह गलत है और उन्हें देश से माफी मांगना चाहिए.’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं यह सार्वजनिक रूप से कह रहा हूं और मैंने फोन पर भी उनसे यही बात कही है. पित्रौदा जी, आपने जो कुछ कहा है, वह पूरी तरह गलत है, आपको अपने आप पर शर्म आनी चाहिए. आपको सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी चाहिए.’

राहुल गांधी ने नोटबंदी और जीएसटी को लेकर भी मोदी पर हमला किया. उन्होंने कहा, ‘इन फैसलों से लोगों की क्रयशक्ति पर बहुत बुरा असर पड़ा और लाखों लोग बेरोजगार हो गए.’ उन्होंने राफेल सौदे को लेकर भी मोदी पर प्रहार किया और उन पर दो करोड़ युवाओं को नौकरियां देने, किसानों की उपज के लिए आकर्षक मूल्य और हर नागरिक के खाते में 15 लाख रूपये लाने समेत 2014 से पहले के वादों को पूरा करने में विफल रहने का आरोप लगाया.

उन्होंने कहा, ‘‘मोदी इन वादों के बारे में बात नहीं करते हैं, लेकिन सभी के सामने सच्चाई सामने आ जाएगी.’ कांग्रेस प्रमुख ने मोदी को भ्रष्टाचार के मुद्दे पर बहस की चुनौती देते हुए कहा, ‘‘.... आप बस 15 मिनट के लिए राफेल सौदे पर बहस कीजिए, लेकिन मोदी डरे हुए हैं..... मैं चार सवाल पूछूंगा और मोदी देश को अपना चेहरा नहीं दिखा पायेंगे.’

input : Bhasha