SP की दूसरी लिस्‍ट जारी, डिंपल यादव समेत 3 महिला प्रत्‍याशियों को मिला टिकट

लखीमपुर खीरी से सपा के राज्यसभा सांसद रवि वर्मा की बेटी पूर्वी वर्मा को लोकसभा टिकट दिया गया है. हरदोई जो कि सुरक्षित सीट है, वहां से ऊषा वर्मा को सपा उम्मीदवार बनाया गया है.

SP की दूसरी लिस्‍ट जारी, डिंपल यादव समेत 3 महिला प्रत्‍याशियों को मिला टिकट
अखिलेश यादव ने पहले कहा था कि वह डिंपल यादव चुनाव नहीं लड़ेंगी लेकिन उनको एक बार फिर कन्‍नौज से टिकट दिया गया है.

नई दिल्‍ली: सपा ने लोकसभा चुनाव प्रत्‍याशियों की दूसरी लिस्‍ट महिला दिवस को समर्पित करते हुए तीन महिला प्रत्‍याशियों के टिकट की घोषणा की है. समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्वीट कर महिला प्रत्याशियों की जानकारी दी. इसके तहत अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव एक बार फिर कन्नौज से लोकसभा चुनाव लड़ेंगी. इस सीट से वह अभी लोकसभा सदस्‍य हैं. वहीं लखीमपुर खीरी से सपा के राज्यसभा सांसद रवि वर्मा की बेटी पूर्वी वर्मा को लोकसभा टिकट दिया गया है. हरदोई जो कि सुरक्षित सीट है, वहां से ऊषा वर्मा को सपा उम्मीदवार बनाया गया है.

इससे पहले समाजवादी पार्टी ने लोकसभा चुनाव के लिए 6 प्रत्याशियों की पहली लिस्ट जारी की. इस प्रकार कुल मिलाकर अब तक सपा ने नौ प्रत्‍याशियों की घोषणा कर दी है. पहली सूची के मुताबिक सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव मैनपुरी से लोकसभा चुनाव लड़ेंगे. फिलहाल वह आजमगढ़ से सांसद हैं. 2014 में वह इन दोनों ही सीटों से जीते थे लेकिन बाद में उन्‍होंने मैनपुरी सीट छोड़ दी थी. मुलायम के अलावा बदायूं से धर्मेंद्र यादव सपा प्रत्‍याशी होंगे. अखिलेश यादव के करीबी माने जाने वाले धर्मेंद्र यादव 2014 के चुनाव में मोदी लहर के बावजूद बदायूं से ही जीते थे. उनको एक बार फिर सपा ने उसी सीट से मैदान में उतारा है. इसी तरह से फिरोजाबाद से मौजूदा सांसद अक्षय यादव को फिर से मैदान में उतारा गया है. इसके अलावा बहराइच से शब्बीर बाल्मीकि, रॉबर्ट्सगंज से भाईलाल कोल और इटावा से कमलेश कठेरिया को सपा ने आगामी लोकसभा चुनाव के लिए प्रत्‍याशी बनाया है.

SP-BSP गठबंधन पर बोले अखिलेश, 'नेता जी' को रिकॉर्ड मतों से जिताने के लिए मिलाया हाथ

मुलायम ने टिकट बांटने में देरी की कही थी बात
उल्‍लेखनीय है कि पिछले दिनों समाजवादी पार्टी (सपा) के संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने सपा और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) गठबंधन पर सवाल खड़े करते हुए कहा था कि गठबंधन कर आधी-आधी सीटों पर चुनाव लड़ रहे हैं इससे आधा उत्तर प्रदेश तो पहले ही हार गए. पार्टी मुख्यालय पर कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए मुलायम ने कहा, 'गठबंधन कर आधी-आधी सीटों पर चुनाव लड़ रहे हैं. आधा यूपी तो पहले ही हार गए. जब हम रक्षा मंत्री थे तो सपा ने 42 सीटें जीतीं थी.'

मुलायम ने पूछा,'सपा-बसपा में आखिर किस आधार पर 37-38 सीटें बांटी गई हैं. सपा की हैसियत ज्यादा है. अगर पार्टी अकेले चुनाव लड़ती तो ज्यादा बेहतर प्रदर्शन करती.' उन्होंने कहा कि 2019 में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को बढ़त दिख रही है. सपा अभी पीछे है.
उन्होंने कहा,'लोग टिकट बांटने में देरी कर रहे हैं. मुझे नाम दिया गया है संरक्षक और क्या काम करना है लिखा ही नहीं. जो लोग लड़ना चाहते हैं वह लिखकर दें, मैं तुरंत टिकट दूंगा.

कांग्रेस की पहली सूची जारी
इससे पहले गुरुवार को कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव के लिए उत्तर प्रदेश और गुजरात की 15 सीटों पर अपने उम्मीदवारों की घोषणा की जिसमें संप्रग प्रमुख सोनिया गांधी और पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी के भी नाम हैं जो इस बार भी अपनी परंपरागत सीटें क्रमश: रायबरेली और अमेठी से चुनाव लड़ेंगे.