close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सपा ने उन्नाव से बदला अपना प्रत्याशी, पार्टी में गुटबाजी के बाद लिया फैसला

अन्ना उन्नाव से दो बार चुनाव लड़ चुके हैं. लोकसभा चुनाव 2014 में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के साक्षी महाराज ने उन्हें हराया था. इस बार उनका मुकाबला बीजेपी के साक्षी महाराज और कांग्रेस की अनु टंडन से है.

सपा ने उन्नाव से बदला अपना प्रत्याशी, पार्टी में गुटबाजी के बाद लिया फैसला
अरुण शंकर शुक्ला उर्फ अन्ना महाराज का फाइल फोटो.

लखनऊ: मुरादाबाद के बाद उत्तर प्रदेश की उन्नाव लोकसभा सीट से समाजवादी पार्टी (सपा) ने अरुण शंकर शुक्ला उर्फ अन्ना महाराज को गठबंधन का प्रत्याशी घोषित किया है. समाजवादी पार्टी ने पहले बीएसपी की पूर्व विधायक पूजा पाल को प्रत्याशी उन्नाव से बनाया था. अरुण शंकर शुक्ला आज (09 अप्रैल) को अपना नामांकन करेंगे.

इसलिए काटा टिकट
जानकारी के मुताबिक, पार्टी में गुटबाजी और पूजा पाल के बाहरी होने के वजह से विरोध हो रहा था, जिसके बाद पार्टी ने टिकट बदला गया. वहीं, सपा के कुछ नेताओं का कहना है कि पूजा पाल की वैवाहिक स्थिति पर असमंजस था, जिसकी वजह से उनका पर्चा रद्द हो सकता था. इसीलिए उनका टिकट काटा गया और अरुण शंकर शुक्ला उर्फ अन्ना महाराज टिकट दिया गया.

 

2014 में भी चुनावी मैदान में थे अन्ना
अन्ना उन्नाव से दो बार चुनाव लड़ चुके हैं. लोकसभा चुनाव 2014 में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के साक्षी महाराज ने उन्हें हराया था. इस बार उनका मुकाबला बीजेपी के साक्षी महाराज और कांग्रेस की अनु टंडन से है. आपको बता दें कि सपा ने इलाहाबाद पश्चिम की पूर्व विधायक पूजा पाल को यहां से मैदान में उतारा था, लेकिन पार्टी में उनके विरोध की आवाज उठने लगी थी.