धर्मनिरपेक्ष नहीं हैं नरेंद्र मोदी : मुस्लिम धर्मगुरु

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और उसके कार्यकर्ता जहां अपने प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी का 64वां जन्मदिन मनाने में मशगूल हैं वहीं, एक मुस्लिम धर्मगुरु ने गुजरात के मुख्यमंत्री पर निशाना साधा है।

ज़ी मीडिया ब्यूरो
अहमदाबाद : भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और उसके कार्यकर्ता जहां अपने प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी का 64वां जन्मदिन मनाने में मशगूल हैं वहीं, एक मुस्लिम धर्मगुरु ने गुजरात के मुख्यमंत्री पर निशाना साधा है।
गुजरात के मुख्यमंत्री को एक बार टोपी पहनने की पेशकश करने वाले इमाम शाहिद सैयद ने कहा कि अल्पसंख्यक समुदाय के प्रति मोदी सद्भाव नहीं रखते हैं। सैयद ने मोदी की सद्भावना रैली के दौरान उन्हें टोपी की पेशकश की थी लेकिन मोदी ने टोपी पहनने से इंकार कर दिया था।
पत्रकारों से बातचीत में शाहिद सैयद ने कहा, ‘मैं अच्छे विचारों के साथ मोदी के सद्भावना उपवास में गया था। मैंने उन्हें टोपी भेंट की लेकिन उन्होंने मुझसे कहा कि वह टोपी नहीं पहनते। इससे साबित होता है कि वह अल्पसंख्यकों के प्रति सद्भावना नहीं रखते और वह धर्मनिरपेक्ष नहीं हैं।’
सैयद ने कहा, ‘समारोह में जिन लोगों ने टोपी पहनी हुई थी, वे भी मुस्लिम नहीं थे। बल्कि वे मजदूर थे जिन्हें टोपी पहनने के लिए 200 रुपए दिए गए थे।’
गौरतलब है कि धर्मगुरु की यह प्रतिक्रया ऐसे समय आई है जब मोदी और उनकी पार्टी अल्पसंख्य वर्गों तक पहुंचने की कोशिश कर रहे हैं। भाजपा ने मोदी को 2014 लोकसभा चुनावों के लिए अपना प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित किया है।