प्रदर्शनों से परेशान यिंगलक ने घोषित किया आपातकाल

थाईलैंड में भारी विरोध प्रदर्शनों का सामना कर रही पूर्व प्रधानमंत्री यिंगलक शिनावात्रा के नेतृत्व वाली सरकार ने मंगलवार को राजधानी बैंकॉक और आसपास के इलाकों में 60 दिनों का आपातकाल घोषित कर दिया।

बैंकॉक : थाईलैंड में भारी विरोध प्रदर्शनों का सामना कर रही पूर्व प्रधानमंत्री यिंगलक शिनावात्रा के नेतृत्व वाली सरकार ने मंगलवार को राजधानी बैंकॉक और आसपास के इलाकों में 60 दिनों का आपातकाल घोषित कर दिया।
उप प्रधानमंत्री सुरापोंग तोविचाकचैकुल ने कहा, ‘कैबिनेट ने स्थिति को संभालने और कानून को बहाल करने के लिए कैबिनेट ने आपातकाल लगा दिया है।’ यिंगलक ने कहा कि ने सेना को कोई महत्वपूर्ण भूमिका देने की योजना नहीं है।
उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘हम पुलिस बल पर ध्यान दे रहे हैं ताकि 2010 जैसी हिंसा को रोका जा सके।’ यिंगलक ने कहा, ‘हम अंतरराष्ट्रीय मानकों के मुताबिक प्रदर्शनकारियों के साथ बातचीत करेंगे। हमने पुलिस से कहा है कि अंतरराष्ट्रीय मानकों का कड़ाई से पालन किया जाए तथा प्रदर्शनकारियों के प्रति संयम बरता जाए।’ आपातकाल वाले इलाकों में पहले ही आंतरिक सुरक्षा कानून लागू कर दिया गया है।
यिंगलक ने पहले ही यहां दो फरवरी को मध्यावधि चुनाव का ऐलान कर रखा है। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार की प्रदर्शनकारियों के साथ टकराव का कोई इरादा नहीं है। कार्यवाहक श्रम मंत्री चालर्म यूबामरूंग ने कहा कि सरकार को आपातकाल लगाना पड़ा क्योंकि प्रदर्शनकारियों ने सरकारी इमारतों और बैंकों को घेर रखा है तथा स्थिति विकट हो गई।
उन्होंने कहा कि ‘पीपुल्स डेमोक्रेटिक रिफॉर्म कमिटी’ की नेताओं के दावों से उलट स्थिति शांतिपूर्ण नहीं है। मंत्री ने कहा, ‘हम बल का इस्तेमाल नहीं करेंगे और हमने अभी कर्फ्यू का ऐलान नहीं किया है।’’ प्रदर्शनकारियो के नेता सुतेप थाउगसुबान ने सरकार के कदम पर सवाल खड़े करते हुए प्रदर्शन जारी रखने का ऐलान किया है। (एजेंसी)

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.