World Record: 2 करोड़ में बिकी इस भेड़ ने बना दिया वर्ल्ड रिकॉर्ड, खासियत जानकर दंग रह जाएंगे आप
topStorieshindi

World Record: 2 करोड़ में बिकी इस भेड़ ने बना दिया वर्ल्ड रिकॉर्ड, खासियत जानकर दंग रह जाएंगे आप

Most Expensive Sheep: ऑस्ट्रेलिया में एक भेड़ की बिक्री की कीमत जानकर आप दंग रह जाएंगे. आपको बता दें कि एलीट ऑस्ट्रेलियन व्हाइट सिंडिकेट के चार सदस्यों ने मिलकर इस खास भेड़ के लिए 2 करोड़ रुपये की मोटी रकम दी है.

 

World Record: 2 करोड़ में बिकी इस भेड़ ने बना दिया वर्ल्ड रिकॉर्ड, खासियत जानकर दंग रह जाएंगे आप

Most Expensive Sheep in World: वैसे तो आपने जानवरों की खरीदी और बिक्री के बारे में खूब सुना होगा लेकिन यहां हम आपको एक भेड़ के बारे में बातने जा रहे हैं जिसकी कीमत जानकर आपको भरोसा नहीं होगा. ये मामला ऑस्ट्रेलिया का है. जहां कुछ लोगों ने मिलकर एक भेड़ को 2 करोड़ रुपये में खरीदा है. आपको बता दें कि एलीट ऑस्ट्रेलियन व्हाइट सिंडिकेट के चार लोगों ने मिलकर इस खास भेड़ के लिए 2 करोड़ रुपये की मोटी रकम दी है. भेड़ की कीमत सुनकर उसके मालिक को भी पहली बार में भरोसा नहीं हुआ. भेड़ के मालिक ग्राहम गिलमोर ने कहा कि उसे इस बात की थोड़ी सी भी आशा नहीं थी कि उसकी भेड़ के लिए इतनी बड़ी रकम मिलेगी.

क्या है इस भेड़ की खासियत

आप सोच रहे होंगे कि इस भेड़ में ऐसी क्या खासियत है जिसके लिए गिलमोर को इतनी बड़ी रकम मिली है. आपको बता दें कि ऑस्ट्रेलियन व्हाइट शीप (Australian White sheep) एक खास नस्ल की भेड़ होती है जिसकी मांग काफी ज्यादा है क्योंकि इसमें मोटे फर काफी कम मात्रा में पाए जाते हैं. बीते सालों में देखा गया है कि भेड़ से फर निकालने वालों की संख्या में तेजी से कमी आई है और फर निकालने का प्रोसेस भी काफी मंहगा है. इस खास नस्ल की भेड़ का इस्तेमाल मीट के लिए किया जाता है.

इस भेड़ ने तोड़ा पिछला वर्ल्ड रिकॉर्ड

ऑस्ट्रेलिया के सेंट्रल न्यू साउथ सेल में बिकी इस भेड़ ने पिछले  साल के रिकॉर्ड को तोड़ दिया है. गौरतलब है कि साल 2021 में एक भेड़ को करीब 1.35 करोड़ रुपये में बेचा गया था. इन आंकड़ों को देखकर आप समझ सकते हैं ऑस्ट्रेलिया में भेड़ पालन का कारोबार किस ऊंचाई पर है. सिंडिकेट के एक सदस्य ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि जिन भेड़ो के शरीर पर कम फर होते हैं वो ऑस्ट्रेलियन कंडीशन्स में बिलकुल सही होते हैं. सिंडिकेट के सदस्य ने बताया कि इन भेड़ों का रख-रखाव करना काफी आसान होता है और इनकी ग्रोथ बाकि भेड़ों की तुलना में काफी अच्छी होती है. खरीदारो ने कहा कि गिलमोर के इस भेड़ के जेनेटिक्स का इस्तेमाल करके बाकि भेड़ों की नस्लों को सुधारे में मदद मिलेगी. 

ये ख़बर आपने पढ़ी देश की नंबर 1 हिंदी वेबसाइट Zeenews.com/Hindi पर

Trending news