फिर सुर्खियों में है दुनिया को Coronavirus बांटने की आरोपी चीन की Wuhan Lab, जानिए कैसे

Wuhan lab nominated for a top science award in China: चाइनीज एकेडमी ऑफ साइंस के मुताबिक लैब को कोरोना महामारी (Covid-19 Pandemic) के निदान पाने की दिशा में हासिल हुई कामयाबियों और वायरस की पहचान, पड़ताल और उसकी काट यानी कोरोना वैक्सीन का विकास करने की वजह से नॉमिनेशन मिला है. 

फिर सुर्खियों में है दुनिया को Coronavirus बांटने की आरोपी चीन की Wuhan Lab, जानिए कैसे
फाइल फोटो: (रॉयटर्स)

नई दिल्ली: दुनिया को कोरोना (Coronavirus) का दंश देने के आरोपी चीन (China) ने वुहान लैब (Wuhan Lab) को प्रतिष्ठित टॉप साइंस अवार्ड (Science and Tech  Achievement Prize) के लिए नामित किया है. रिपोर्ट्स के मुताबिक, बैट वूमैन के नाम से मशहूर वुहान इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी के चीफ शी झेंगली (Batwoman Shi Zhengli ) को अकादमी की तरफ से विशेष दर्जा देते हुए सम्मानित किया है.

वुहान लैब का विवादों से पुराना नाता

चाइनीज एकेडमी ऑफ साइंस (Chinese Academy of Sciences) से मिली जानकारी के मुताबिक विवादों में रही इस वुहान लैब को कोरोना महामारी (Covid-19 Pandemic) के निदान पाने की दिशा में हासिल की गई कामयाबियों और वायरस की व्यवस्थित और सिलसिलेवार पहचान सुनिश्चित करने के लिए किए गए अनुसंधान की वजह से ये नॉमिनेशन मिला है. जबकि दुनिया के कई देशों का मानना है कि कोरोना का खतरनाक वायरस इसी लैब से लीक हुआ था. ये लैब लंबे समय से अपने गोपनीय मिशन के चलते विवादों में रही है.

ये भी पढे़ं- China कर रहा भारत की सुरक्षा प्रणाली में तांक-झांक, रक्षा मंत्रालय की वेबसाइट हैक करने की फिराक में था ड्रैगन

इस लैब की परियोजना के परिणामों से उत्साहित होकर बीजिंग की शी जिनपिंग सरकार के अधिकारियों का कहना है कि वुहान लैब ने Covid 19 वायरस की उत्पत्ति, महामारी विज्ञान और रोगजनक तंत्र पर अनुवर्ती अनुसंधान के लिए एक महत्वपूर्ण नींव और प्रौद्योगिकी मंच तैयार किया है.

वैक्सीन निर्माण में अहम भूमिका

अकादमी के अनुसार, वुहान इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी के रिसर्च ने कोरोना वायरस महामारी की रोकथाम और कोरोना की काट यानी कोरोना की वैक्सीन बनाने की दिशा में अभूतपूर्व योगदान दिया है. आपको बता दें कि इस लैब की निदेशक Dr Zhengli पर 'गेन-ऑफ-फंक्शन' (GOF) जैसे प्रयोग करने का आरोप भी लग चुका है. इस प्रकिया में वैज्ञानिक वायरस के प्रभावों का बेहतर विश्लेषण करने के लिए उसकी की ताकत को बढ़ाते हैं.

ये भी पढे़ं- Corona महामारी के शिकार आश्रितों की मदद के लिए भारत सरकार का बड़ा कदम, Delhi में लागू हुई आर्थिक सहायता योजना

चीन का आरोपों से इनकार

आपको बता दें कि महामारी की शुरुआत के दौर से ही चीन की भूमिका विवादास्पद रही है. वुहान एनिमल मार्केट हो या फिर ड्रैगन के खतरनाक इरादों को अंजाम देने वाली वुहान की खतरनाक लैब यहां हमेशा सुरक्षा के कड़े इंतजाम रहते हैं. चीन लगातार कोरोना फैलाने को लेकर अमेरिका समेत दुनिया के कई देशों के आरोपों का खंडन करता रहा है.

वहीं इस कड़ी में कई वैज्ञानिकों का मानना ​​है कि बैट वूमन की लैब से कोरोना वायरस फिसल कर निकल गया.दूसरी ओर Dr Zhengli ने भी लैब से वायरस के लीक होने के आरोपों का खंडन किया है. उन्होंने कहा कि मैं ऐसे सवाल का जवाब कैसे दे सकती हूं जबकि हमारे संस्थान का इन आरोपों से कोई लेना-देना नहीं है.

 

LIVE TV

 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.