Remedies of Sun: चमत्कारी है भगवान सूर्य का ये मंत्र, दूर होंगे सभी कष्ट

सूर्य देव की आराधना करने से कुंडली के सभी दोष दूर हो जाते हैं.

Remedies of Sun: चमत्कारी है भगवान सूर्य का ये मंत्र, दूर होंगे सभी कष्ट
Play

नई दिल्ली: ज्योतिष शास्त्र के अनुसार 9 ग्रहों में सूर्य देव को राजा माना गया है. जिनकी साधना-आराधना करने से कुंडली के सभी दोष दूर हो जाते हैं. सूर्य देव का नाम सविता भी है. सूर्य सिंह राशि का स्वामी है और इनकी महादशा छह साल की होती है. कुंडली में सूर्य यदि मजबूत अवस्था में हो तो व्यक्ति को समाज में खूब मान-सम्मान और सुख-समृद्धि मिलती है. विशेष रूप से पिता का पूरा साथ मिलता है. सूर्य देव की कृपा पाने के लिए सबसे उत्तम उनके मंत्रों का जाप और सूर्योदय के समय अर्घ्य देना माना गया है. सूर्य प्रत्यक्ष देवता हैं, जिनका दर्शन पृथ्वी पर कहीं भी रहते हुए किया जा सकता है. सूर्य देव अपने भक्तों के सभी कष्टों को दूर करने वाले हैं. आइए जानते हैं कि किन उपायों को करने से मिलने लगती है सूर्य की कृपा-

कैसे रखें रविवार का व्रत
रविवार का व्रत किसी भी मास के शुक्ल पक्ष से प्रारंभ करना चाहिए. इसे कम से कम 12 व्रत अवश्य रखना चाहिए. हालांकि यदि संभव हो तो पूरे साल रखना चाहिए. सूर्य को जल देने के बाद भगवान सूर्य के बीज मंत्र की कम से कम पांच माला का जाप जरूर करें. इसके बाद रविवार व्रत की कथा पढ़ें. व्रत के दिन सुबह स्नान-ध्यान करके लाल रंग के कपड़े पहने और उगते हुए सूर्य को अर्घ्य दें. इस दिन केवल गेहूं की रोटी या गेहूं का दलिया और गुड़ का सेवन करें. ऐसा करते हुए जब आपके व्रत का संकल्प पूरा हो जाए तो कम से कम दो ब्राह्मणों को आदर के साथ भोजन कराएं एवं अपने सामर्थ्य के अनुसार सूर्य से संबंधी दान और दक्षिणा दें.

रविवार व्रत का फल
रविवार का व्रत रखने से सूर्य देव की कृपा प्राप्त होती है. इस व्रत को करने से आंख से संबंधी दोष दूर होते हैं और आयु बढ़ती है.

सूर्य का प्रार्थना मंत्र
ग्रहाणामादिरादित्यो लोक लक्षण कारक:।
विषम स्थान संभूतां पीड़ां दहतु मे रवि।।

इस मंत्र का जाप करने सूर्य देव शीघ्र ही प्रसन्न होते हैं और उनकी कृपा से सभी मनोरथ पूरे होते हैं.

ये भी पढ़ें- Govardhan Parikrama: गिरिराज जिनकी परिक्रमा से पूरी होती है मनोकामना

सूर्य का तंत्रोक्त मंत्र-
ॐ ह्रां ह्रीं ह्रौं स: सूर्याय नम:।

जप संख्या– 7,000 जाप  

सूर्य का दान
सूर्य देव की कृपा पाने के लिए रविवार के दिन गेहूं, गुड़, तांबा, सोना, लाल चंदन आदि का दान करना चाहिए.

सूर्य को मनाने के महाउपाय
- प्रतिदिन सुबह स्नान-ध्यान करके उगते हुए सूर्य को रोली मिला कर अर्घ्य दें. 
- रविवार के दिन तांबा, गुड़, गेहूं और मसूर की दाल दान करें.
- रविवार के दिन बंदरों को गुड़ चना खिलाएं. 
- रविवार के दिन लाल गाय को गेहूं खिलाएं.
- पूरी श्रद्धा एवं विश्वास के साथ सूर्य देव के मंत्रों का जाप करने पर निश्चित ही शुभ फलों की प्राप्ति होती है. 
- सूर्य की कृपा पाने के लिए विशेष रूप से अपने पिता और माता की सेवा करके उन्हें हमेशा प्रसन्न रखें. 
- यदि आपकी कुंडली में सूर्य नीच का हो तो न तो सूर्य संबंधी चीजों को किसी से लें और न ही किसी को दें.