Zee Rozgar Samachar

NASA ने शेयर की 5 लाख साल पुराने यंग Star Cluster की एक तस्वीर, लिखा- 'How blue-tiful!'

विज्ञान की दुनिया (Science World) अद्भुत होती है. इसमें हमेशा कोई न कोई तार्किक चमत्कार होता रहता है. अब नासा (NASA) ने 5 लाख साल पुराने युवा स्टार क्लस्टर (Young And Dazzling Star Cluster NGC 602) की एक तस्वीर साझा की है. जानिए इसके बारे में. 

NASA ने शेयर की 5 लाख साल पुराने यंग Star Cluster की एक तस्वीर, लिखा- 'How blue-tiful!'
फोटो साभार: नासा/इंस्टाग्राम

नई दिल्ली: विज्ञान की दुनिया (World Of Science) में हमेशा कुछ न कुछ नया होता रहता है. अब एक नई जानकारी देते हुए नासा (NASA) ने बताया कि लगभग 200 हजार प्रकाश-वर्ष दूर, छोटे मैगेलैनिक बादल (Small Magellanic Cloud) के बाहरी इलाके के पास उज्ज्वल, नीले, नवगठित सितारों के साथ एक 5 लाख साल का युवा स्टार क्लस्टर (Star Cluster) चकाचौंध करता है.

स्टार क्लस्टर NGC 602 

नासा (NASA) ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर क्लस्टर की एक तस्वीर साझा करते हुए लिखा- स्मॉल मैगेलैनिक क्लाउड के बाहरी हिस्से के पास, लगभग 200 हजार प्रकाश-वर्ष दूर एक उपग्रह आकाशगंगा है, जो 5 लाख वर्ष के युवा और चमकदार स्टार क्लस्टर NGC 602 (Young And Dazzling Star Cluster NGC 602) के रूप में जाना जाता है. स्टार क्लस्टर के अंदर चमकीले, नीले, नए बने सितारे उड़ रहे हैं.

यह भी पढ़ें- आकाश से गिरने वाले हैं आग के गोले, क्या अब हो जाएगा पृथ्वी का महाविनाश?

VIDEO

ब्रह्मांड की रौनक बढ़ाते यंग सितारे 

नासा द्वारा साझा की गई जानकारी के मुताबिक, 'स्टार का बनना क्लस्टर के केंद्र में शुरू हुआ था और फिर बाहर की तरफ फैलता गया. इसमें धूल की लकीरों के साथ ये यंग सितारे आज भी बनते हैं और चमकते हैं.' 

एक लाख से अधिक लोगों ने किया लाइक 

नासा द्वारा साझा की गई इस अद्भुत तस्वीर में 'खूबसूरत ब्रह्मांड' की खूब सराहना हो रही है. इसे एक लाख से अधिक लोगों ने लाइक किया है. यूजर्स इसे खूब शेयर भी कर रहे हैं. एक यूजर ने इस फोटो पर कमेंट किया, 'गैलेक्सी तो गजब है.' 

यह भी पढ़ें- Northern Lights: सूरज से निकला है तूफान, जल्द ही आसमान में दिखेगा दिलकश नजारा

इस रंग के होते हैं सबसे गर्म तारे

नासा (NASA) ने यह भी बताया कि सबसे गर्म तारे नीले या नीले-सफेद रंग के होते हैं या फिर ये लाल या लाल-भूरे रंग के होते हैं. नासा के अनुसार, 'किसी तारे का रंग सीधे उसकी सतह के तापमान से जुड़ा होता है. तारा जितना गर्म होगा, प्रकाश का तरंगदैर्घ्य (Wavelength) उतना ही कम होगा.' 

विज्ञान से जुड़ी अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.