Breaking News
  • उत्‍तर-पूर्वी दिल्‍ली के डीसीपी दफ्तर पहुंचे NSA अजित डोवल
  • हिंसा के बाद दिल्‍ली के हालात संभालने की जिम्‍मेदारी NSA को मिली
  • पाकिस्‍तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ भगोड़ा घोषित

'टीम इंडिया के पूर्व ऑलराउंडर का निधन, सचिन ने उनके अद्भुत रिकॉर्ड को किया सलाम

बापू नाडकर्णी ने एक टेस्ट में सबसे ज्यादा लगातार मेडन ओवर फेंक कर सबको हैरान कर दिया था. 

'टीम इंडिया के पूर्व ऑलराउंडर का निधन, सचिन ने उनके अद्भुत रिकॉर्ड को किया सलाम
सचिन का कहना है कि वे नाडकर्णी के रिकॉर्ड को देख कर बड़े हुए (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: टीम इंडिया के पूर्व ऑलराउंडर बापू नाडकर्णी (Bapu Nadkarni) का 86 साल की उम्र में मुंबई में निधन हो गया. वे लंबे समय से बीमार चल रहे थे. उनके नाम एक टेस्ट में लगातार 21 ओवर मेडन फेंकने का रिकॉर्ड है. उनके निधन पर टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सचिन तेंदुलकर ने भी शोक जताया. 

4 अप्रैल 1933 को जन्में नाडकर्णी ने 1955 में न्यूजीलैंड के खिलाफ अपना पहला टेस्ट दिल्ली में खेला था. उन्होंने 191 प्रथम श्रेणी मैच खेले जिसमें 500 विकेट लेकर 8880 रन बनाए. उन्होंने भारत के लिए 41 टेस्ट में 1414 रन बनाए. और 88 विकेट लिए. 43 रन पर 6 विकेट उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन रहा. 

यह भी पढ़ें: IND vs AUS: बेंगलुरू का है खास इतिहास, यहां फिंच-वार्नर ने बनाया था रिकॉर्ड

क्या कहा सचिन ने
सचिन ने अपने ट्वीट में कहा, "श्री बापू नाडकर्णी के निधन के बारे में सुनकर बहुत अफसोस हुआ. मैं टेस्ट में उनके लगातार 21 मेडन के रिकॉर्ड को सुनकर बड़ा हुआ. उनके परिवार और प्रियजनों के प्रति मेरी संवेदनाएं."

क्या था वह रिकॉर्ड
नाडकर्णी ने इंग्लैंड के खिलाफ चेन्नई में इंग्लैंड के खिलाफ लगातार 21 ओवर में मेडन फेंके थे. उस पारी में उन्होंने 32 ओवर में केवल 5 देकर कुल 27 ओवर मेडन फेंक कर सभी को अचंभे में डाल दिया. इसके बावजूद उन्हें उस पारी में कोई विकेट नहीं मिला था. 

नाडकर्णी राष्ट्रीय चयन समिति के सदस्य भी रहे थे और उन्होंने मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन के संयुक्त सचिव का पद भी संभाला था. एक खिफायती गेंदबाज के तौर पर नाडकर्णी ने अपने टेस्ट करियर में 9165 गेंदों में केवल 2559 रन दिए थे. उनकी टेस्ट इकोनॉमैी केवल 1.67 थी और आज भी उन गेंदबाजों में चौथी श्रेष्ठ है जिन्होंने 2000 से ज्यादा टेस्ट गेंदें फेंकी हैं.