close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

टीम इंडिया: कोच के लिए इंटरव्यू देंगे 3 विदेशी दिग्गज, जानिए तीनों की प्रोफाइल

भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच के लिए शॉर्टलिस्ट किए गए 6 उम्मीदवारों में 3 भारत के और 3 विदेशी हैं. 

टीम इंडिया: कोच के लिए इंटरव्यू देंगे 3 विदेशी दिग्गज, जानिए तीनों की प्रोफाइल
ऑस्ट्रेलिया के टॉम मूडी, वेस्टइंडीज के फिल सिमंस और न्यूजीलैंड के माइक हेसन. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम (Team India) का नया कोच चुने जाने की प्रक्रिया तेजी से जारी है. शुरुआत में इस रेस में करीब 2000 लोग शामिल थे, जिन्हें छांटकर अब सिर्फ छह तक सीमित कर दिया गया है. इन छह उम्मीदवारों में तीन विदेशी हैं. इन सभी ने बीसीसीआई ( BCCI) क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) के सामने अपना प्रजेंटेशन भी दे दिया है. सीएसी (CAC) 16 अगस्त को इनका इंटरव्यू ले सकती है. कोच चुनने वाली तीन सदस्यीय सीएसी (CAC) के अध्यक्ष कपिल देव (Kapil Dev) हैं. इसमें अंशुमन गायकवाड़ और शांता रंगास्वामी भी शामिल हैं. जानिए ये तीन उम्मीदवार कौन हैं और क्या है उनकी प्रोफाइल...

1. फिल सिमंस; विंडीज को चैंपियन बनाया, अफगानिस्तान को संवारा 
अफगानिस्तान की टीम को नौसिखिए से चैलेंजर बनाने का काफी हद तक श्रेय वेस्टइंडीज के फिल सिमंस (Phil Simmons) को दिया जा सकता है. सिमंस ने 26 टेस्ट और 143 वनडे खेलने के बाद 2002 में संन्यास लिया. दो साल बाद वे जिम्बाब्वे के कोच बने. जिम्बाब्वे क्रिकेट बोर्ड से अनबन होने के बाद वे आयरलैंड टीम के नेशनल कोच बन गए. साल 2007 में पाकिस्तान और 2011 में इंग्लैंड और वेस्टइंडीज को हराने वाली आयरिश टीम के कोच सिमंस ही थे. विश्व कप 2015 में वे वेस्टइंडीज की टीम के साथ रहे. वेस्टइंडीज ने सिमंस की अगुवाई में ही 2016 का टी20 विश्व कप जीता. साल 2017 में वे अफगानिस्तान की टीम से जुड़ गए. हाल ही में संपन्न विश्व कप के दौरान वे अफगानिस्तान के मुख्य कोच थे. 

2. माइक हेसन; न्यूजीलैंड के सफलतम कोच 
44 साल के माइक हेसन (Mike Hesson) के नाम न्यूजीलैंड का सबसे सफल कोच होने की उपलब्धि दर्ज है. हेसन शॉर्टलिस्ट किए गए उम्मीदवारों में एकमात्र ऐसे कोच हैं, जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट नहीं खेला है. वे 15 साल तक न्यूजीलैंड की घरेलू टीम ओटैगो से जुड़े रहे. उन्होंने ओटैगो को नेशनल चैंपियन बनाया. फिर 2011 में केन्या के कोच बने. न्यूजीलैंड के हेसन 2012 में अपनी राष्ट्रीय टीम के कोच बने. न्यूजीलैंड उनके कार्यकाल में पहली बार विश्व कप फाइनल (2015) में पहुंचा. इसके बाद उन्हें विश्व कप 2019 तक के लिए कोच बना दिया गया. लेकिन हेसन ने निजी कारणों से अप्रैल 2018 में पद से इस्तीफा दे दिया. 

3. टॉम मूडी; श्रीलंका को फाइनल में पहुंचाया 
ऑस्ट्रेलिया के टॉम मूडी (Tom Moody) ना सिर्फ सफल क्रिकेटर रहे हैं, बल्कि उनकी गिनती अच्छे कोच में भी होती है. वे ऑस्ट्रेलिया के लिए 76 वनडे और 8 टेस्ट मैच खेल चुके हैं. संन्यास के बाद वे कोच बन गए. जब 2007 में श्रीलंकाई टीम विश्व कप के फाइनल में पहुंची, तो उसके कोच टॉम मूडी ही थे. वे आईपीएल में किंग्स इलेवन पंजाब और सनराइजर्स हैदराबाद टीम के कोच भी रह चुके हैं. 53 साल के मूडी भारतीय टीम के कोच के लिए पिछली बार भी शॉर्टलिस्ट किए गए थे, लेकिन तब वे रेस में पिछड़ गए थे. वे बिग बैश लीग, पाकिस्तान सुपर लीग और ग्लोबल टी20 लीग में भी अलग-अलग टीमों से जुड़े हुए हैं.