अश्विन के 'मांकडिंग' पर इंग्लैंड के पूर्व कप्तान गॉवर का बड़ा बयान, जानिए क्या कहा

रविचंद्रन अश्विन ने आईपीएल के एक मैच में जब जोस बटलर को मांकडिंग आउट किया था तो उनकी काफी आलोचना हुई थी, इसे खेल भावना के खिलाफ बताया गया था.

अश्विन के 'मांकडिंग' पर इंग्लैंड के पूर्व कप्तान गॉवर का बड़ा बयान, जानिए क्या कहा
रविचंद्रन अश्विन ने जोस बटलर को मांकडिंग आउट किया था. (फोटो-सोशल मीडिया)

नई दिल्ली: इंग्लैंड के पूर्व कप्तान डेविड गॉवर (David Gower) ने भारतीय स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) और तमाम क्रिकेटर्स को एक बड़ी नसीहत दी है. दरअसल पिछले साल आईपीएल के दौरान अश्विन ने जोस बटलर को मांकडिंग (Mankading) के जरिए आउट कर दिया था, जिसके बाद अश्विन काफी विवादों में आ गए थे. बहुत से पूर्व खिलाड़ियों ने अश्विन की आलोचना करते हुए उन पर क्रिकेट की शालीनता भंग करने का आरोप लगाया था. असल में देखा जाए तो अश्विन ने जो किया वो क्रिकेट के नियमों के विरूद्ध नहीं था पर खेल भावना के खिलाफ जरूर था.

यह भी पढ़ें- क्रिकेटर मोहम्मद शमी की दरियादिली, इस तरह कर रहे हैं प्रवासी मजदूरों की मदद

अश्विन के आलोचकों में अब इंग्लैंड के पूर्व स्टाइलिश बल्लेबाज और कैप्टन गॉवर भी शामिल हो गए हैं और उन्होनें अश्विन और दुनिया के बाकी क्रिकेटर्स को सलाह देते हुए कहा है कि किसी भी बल्लेबाज को मांकडिंंग करने से पहले एक चेतावनी जरूर देनी चाहिए. अब आप सोच रहे होंगे कि ये मांकडिंग आखिर होता क्या है? क्रिकेट की भाषा में मांकडिंग का मतलब है, नॉन स्ट्राइकर बल्लेबाज को क्रीज से बाहर होने पर बॉल फेंकने से पहले आउट कर लेना. 

इंग्लैंड के एक टीवी चैनल के साथ बातचीत के दौरान गॉवर ने इस विवाद पर अपना मत रखा और कहा कि किसी भी बल्लेबाज को मांकडिंग के जरिए आउट करना खेल भावना के खिलाफ है और इससे पूरी दुनिया में क्रिकेट का गौरव कम होता है. वैसे तो किसी भी बल्लेबाज को मांकडिंग करनी ही नहीं चाहिए, मगर कोई गेंदबाज ऐसा करना ही चाहता है तो उसे कम से कम एक बार बल्लेबाज को चेतावनी जरूर देनी चाहिए.

गॉवर ने कहा, 'यह सब जब हुआ तब मैं भारत में था. मैंने इसकी पूरी मीडिया कवरेज देखी थी. मैंने इसे काफी करीब से देखा क्योंकि लोग मुझसे मेरे विचार जानना चाह रहे थे. अब जब मैं फुटेज देखता हूं तो सोचता हूं कि बटलर आखिर पिच पर कितनी दूर तक गए थे और पाता हूं कि लगभग कहीं नहीं. मुझे निजी तौर पर लगता है कि बटलर को भांप लेना था कि अश्विन क्या करने वाले हैं. हम सबने देखा क्या हुआ. मुझे लगता है कि अश्विन मांकडिंग करने के बारे में पहले से ही सोच रहे थे.'

इंग्लैंड के इस पूर्व बल्लेबाज ने कहा, 'मैं इस बारे में एक सलाह सभी उम्र के बच्चों को देना चाहूंगा, चाहे वो 15, 18, 20, 25, 35, 40 के हों. एक बार चेतावनी जरूर दीजिए क्योंकि ऐसा करना काफी अच्छा रहेगा. इससे आपको मौका मिलेगा आगे इसे जारी रखने का, अगर जरूरत पड़ी तो, लेकिन चेतावनी जरूर दीजिए. यह मेरी सलाह है.'