close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

केजरीवाल सरकार पर गौतम गंभीर का तंज, 'दर्दे दिल, दर्दे जिगर... पहले तो यहां Oxygen था, भगाया AAP ने'

दिल्ली में प्रदूषण के इन बिगड़े हालातों पर क्रिकेटर गौतम गंभीर ने आम आदमी पार्टी (AAP) पर सवाल उठाए हैं.

केजरीवाल सरकार पर गौतम गंभीर का तंज, 'दर्दे दिल, दर्दे जिगर... पहले तो यहां Oxygen था, भगाया AAP ने'
गौतम गंभीर ने अरविंद केजरीवाल सरकार पर साधा निशाना (फाइल फोटो)

नई दिल्ली : दिल्ली के क्रिकेटर गौतम गंभीर अक्सर देश और समाज से जुड़े मुद्दों पर अपनी राय बेबाकी से रखते हैं. इस बार उन्होंने दिल्ली में बढ़ रहे प्रदूषण को लेकर अरविंद केजरीवाल की सरकार पर निशाना साधा है. पिछले कुछ दिनों से एक बार फिर से राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और एनसीआर की हवा खराब हो चुकी है. दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में पिछले कुछ दिनों से को वायु गुणवत्ता का स्तर 'अति खराब' स्तर पर पहुंच गया. रातों-रात प्रदूषण में हुई वृद्धि के कारण शहर में धुंध छाई हुई है. विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है कि अब स्मॉग की शुरुआत हो जाएगी.

दिल्ली में प्रदूषण के इन बिगड़े हालातों पर क्रिकेटर गौतम गंभीर ने आम आदमी पार्टी (AAP) पर सवाल उठाए हैं. उन्होंने ऋषि कपूर के एक गाने दर्दे दिल का सहारा लेते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से सवाल किए हैं. 

गौतम गंभीर ने अपने ऑफिशियर टि्वटर हैंडिल से सीएम अरविंद केजरीवाल को टैग करते हुए एक ट्वीट किया है. उन्होंने लिखा है- 'दर्दे दिल, दर्दे जिगर दिल्ली में जगाया AAP ने, पहले तो यहां ऑक्सीजन था, ऑक्सीजन भगाया AAP ने'. 

इसके बाद गंभीर ने केजरीवाल और AAP को टैग कर आगे लिखा- 'हमारी पीढ़ियां आपके झूठे वादों के कारण धुएं में जी रही हैं. आपके पास डेंगू और प्रदूषण को रोकने के लिए एक साल का वक्त था, दुख की बात है कि आपने दोनों में से किसी को नियंत्रित नहीं किया. जाग जाइए.' 

बता दें कि कई मौसम कारकों के वजह से प्रदूषण स्तर के बढ़ने से दिल्ली-एनसीआर धुंध से लगातार घिर रहा है. दिल्ली एक बार फिर से आपातस्थिति का सामना कर रही है. भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) के अध्यक्ष के.जी. रमेश ने आईएएनएस को बताया, "जब तक ओजोन में सुधार नहीं होता, तब तक यह धुंध बरकरार रहेगी." धुंध पर्टिकुलेट मैटर (पीएम) पर पड़ने वाले सूर्य का प्रकाश का प्रतिबिम्ब है. स्मॉग, नमी व पीएम का मिश्रण है, इसमें सीमित दृश्यता होती है.

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रक बोर्ड (सीपीसीबी) के मुताबिक, वायु गुणवत्ता एक नवंबर से और बिगड़ती जाएगी और इस साल दिवाली अधिक प्रदूषित हो सकती है.