IND vs ENG: हार के बाद खत्म नहीं हो रहीं इंग्लैंड की समस्याएं! आने वाले मैचों में होगी ये बड़ी दिक्कत
X

IND vs ENG: हार के बाद खत्म नहीं हो रहीं इंग्लैंड की समस्याएं! आने वाले मैचों में होगी ये बड़ी दिक्कत

IND vs ENG: इंग्लैंड की टीम को भारत के खिलाफ लॉर्ड्स टेस्ट में 151 रनों से हार का सामना करना पड़ा. इस हार के बाद इंग्लैंड की आलोचना भी सब जगह की जा रही है. 

 

IND vs ENG: हार के बाद खत्म नहीं हो रहीं इंग्लैंड की समस्याएं! आने वाले मैचों में होगी ये बड़ी दिक्कत

नई दिल्ली: विराट कोहली (Virat Kohli) की कप्तानी वाली टीम इंडिया ने मेजबान इंग्लैंड को क्रिकेट का मक्का कहे जाने वाले लॉर्ड्स मैदान पर 151 रनों से करारी मात दी. इस जीत के साथ भारतीय टीम ने सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली है. लेकिन इंग्लैंड को जब से टीम इंडिया से हार मिली है तभी से लगातार उन्हें सब जगह ट्रोल किया जा रहा है.

अब इस दिग्गज ने की आलोचना 

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान एंड्रयू स्ट्रॉस (Andrew Strauss) का मानना है कि भारत के हाथों दूसरे टेस्ट में जो रूट की टीम जिस तरह से हारी है, उसकी टीस पांच मैचों की इस सीरीज के बाकी मैचों में भी रहेगी. मैच पर पकड़ बनाने के बाद इंग्लैंड की टीम आखिरी दिन 151 रन से हार गई. स्ट्रॉस ने ‘स्काय स्पोर्ट्स ’ से कहा, ‘वे जीत के करीब थे लेकिन आखिरी दिन लंच से पहले मैच उनकी गिरफ्त से निकल गया.’

भारत ने खेली जबर्दस्त क्रिकेट

एंड्रयू स्ट्रॉस (Andrew Strauss) ने कहा, ‘शीर्षक्रम एक बार फिर चरमरा गया. इससे मध्यक्रम पर दबाव बना और भारत के पास उन्हें आउट करने के लिए काफी ओवर थे . भारत के साथ और खासकर विराट कोहली के साथ कोई भी सीरीज प्रतिस्पर्धी होती है. उन्होंने पांच दिन जबर्दस्त टेस्ट क्रिकेट खेली. भारत इस जीत का हकदार था. उन्होंने जीतने के लिए पूरा प्रयास किया. इंग्लैंड की टीम को इस हार की टीस लंबे समय तक रहेगी.’

इंग्लिश की टीम में होना चाहिए बदलाव

उन्होंने इंग्लैंड के शीर्षक्रम में भी बदलाव की मांग की. इंग्लैंड के टेस्ट इतिहास में पहली बार घरेलू टेस्ट की किसी एक पारी में दोनों सलामी बल्लेबाज खाता खोले बिना आउट हुए. स्ट्रॉस ने कहा, ‘इंग्लैंड के सामने काफी समस्याएं हैं. डोम सिबली फॉर्म में नहीं हैं. ओली पोप की वापसी जरूरी है लेकिन क्या उसे तीसरे नंबर पर उतारने का सही समय है. इन सभी सवालों के हल ढूंढने होंगे.’

Trending news