IND vs NZ: फिर टेलएंडर्स के भूत से परेशान हुए भारतीय बॉलर्स, गंवाया सुनहरा मौका

India vs New Zealand: क्राइस्ट चर्च में टीम इंडिया के दूसरी पारी में लड़खड़ाने के बाद संकट में दिख रही है. 

IND vs NZ: फिर टेलएंडर्स के भूत से परेशान हुए भारतीय बॉलर्स, गंवाया सुनहरा मौका
भारतीय गेंदबाजों ने वैसे तो बेहतरीन गेंदबाजी की, लेकिन टेलएंडर्स पर फिर काबू नहीं पा सके.

क्राइस्टचर्च: टीम इंडिया इस समय न्यूजीलैंड के खिलाफ (India vs New Zealand)दूसरे टेस्ट मैच में हार के खतरे का सामना कर रही है. दूसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद टीम इंडिया की दूसरी पारी बुरी तरह से लड़खड़ा गई, जबकि उससे पहले टीम इंडिया मेजबान टीम को 235 रन पर आउट कर 7 रन की बढ़त ही ले सकी. भारतीय गेंदबाजों के लिए टेलएंडर्स को आउट करना एक बार फिर मुसीबत बना. 

पहले दिन का खेल खत्म होने के बाद टीम इंडिया के 242 रन के जवाब में न्यूजीलैंड ने बिना कोई विकेट खोए 63 रन बना लिए थे. लेकिन दूसरे दिन लंच तक मोहम्मद शमी की अगुआई में टीम इंडिया के गेंदबाजों ने न्यूजीलैंड की पारी में 142 रन बनने तक विकेट गिरा दिए थे. 

यह भी पढ़ें: IND vs NZ 2nd Test: बॉलर्स की मेहनत पर बैटिंग ने फेरा पानी, जानें दूसरे दिन का हाल

यहां से टीम इंडिया के पास मैच में हावी होने के सुनहरा मौका था, जब लंच के फौरन बाद ही बुमराह ने वाटलिंग और टिम साउदी को शून्य पर आउट कर न्यूजीलैंड का स्कोर 7 विकेट 153 कर दिया था, लेकिन इसके बाद भी भारतीय गेंदबाज मेजबान टीम को 200 के स्कोर से पहले समेटने में नाकाम रहे. 

न्यूजीलैंड के आखिरी तीन विकेट गिरते गिरते 82 रन बने जिसमें काइल जैमिसन ने एक बार फिर अपनी टीम के लिए शानदार 49 रन की पारी खेली. अंत में टीम इंडिया को केवल 7 रन की बढ़त मिल सकी. 

इस पारी में जैमिसन और नील वेगनर ने 9वें विकेट के लिए 51 रन की साझेदारी कर डाली. जिस तरह से मैच जा रहा है, यह साझेदारी टीम इंडिया पर भारी पड़ सकती है.  वहीं टीम इंडिया के रविचंद्रन अश्विन, जो इस मैच में नहीं खेल रहे हैं, ने कहा कि भारतीय निचले क्रम के बल्लेबाज समय के साथ बेहतर खेल दिखा रहे हैं, जबकि हकीकत यह है कि दो साल से टीम इंडिया निचले क्रम के रन न बना पाने की वजह से ही परेशान हो रही है. 2018 का इंग्लैंड दौरा इसका सबसे अच्छा उदाहरण है. 

हेगले ओवल के इस मैदान पर दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक टीम इंडिया का स्कोर 6 विकेट खोकर 90 रन हो गया था जिससे टीम इंडिया को केवल 97 रन की लीड मिली थी. इससे पहले टीम इंडिया को वेलिंगटन टेस्ट में 10 विकेट से हार का सामना करना पड़ा. 
(इनपुट आईएएनएस)