रोहित शर्मा मुंबई में पेड़ों की कटाई से गुस्से में, कहा- हम ऐसा कैसे कर सकते हैं?

रोहित शर्मा ने कहा, ‘मुंबई का यह हिस्सा थोड़ा बहुत हरा-भरा है और यहां के तापमान में हल्का अंतर रहता है. इसका कारण आरे कॉलोनी है.’ 

रोहित शर्मा मुंबई में पेड़ों की कटाई से गुस्से में, कहा- हम ऐसा कैसे कर सकते हैं?
मुंबई के रोहित शर्मा पर्यावरण के साथ-साथ जंगली जानवरों के संरक्षण के लिए भी काम करते रहे हैं. (फोटो: IANS)

नई दिल्ली: मुंबई के आरे कॉलोनी (Aarey Colony) में पेड़ों की कटाई के विरोध में क्रिकेटर भी उतर आए हैं. स्टार क्रिकेटर रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने मंगलवार को कहा कि आरे कॉलोनी में हो रही पेड़ों की कटाई बहुत बुरी है. मुंबई का यह हिस्सा थोड़ा बहुत हरा-भरा है और यहां के तापमान में हल्का अंतर रहता है. इसका कारण आरे कॉलोनी है. मुंबई के रोहित शर्मा पर्यावरण के साथ-साथ जंगली जानवरों के संरक्षण के लिए भी काम करते रहे हैं.

रोहित शर्मा ने मंगलवार को ट्वीट कर पेड़ों की कटाई का विरोध किया. उन्होंने लिखा, ‘इस खबर में भले ही कुछ ज्यादा क्यों न हो, लेकिन पेड़ों की कटाई काफी बुरी है. मुंबई का यह हिस्सा हरा-भरा रहता है. यहां के तापमान में भी हल्की सी गिरावट रहती है. इसका कारण आरे कॉलोनी है. हम कैसे इसे छीन सकते हैं. साथ ही हजारों जानवरों के बारे में मत भूलिए, जिनके पास अब रहने को जगह नहीं होगी.’

यह भी देखें: VIDEO: सैनिकों का हौसला बढ़ाने पहुंचे सचिन तेंदुलकर, कहा- अभिनंदन को देख रोंगटे खड़े हो गए

बॉम्बे हाईकोर्ट (Bombay High Court) ने चार अक्टूबर को महाराष्ट्र सरकार को पेड़ों को काटने की इजाजत दे दी थी. इसके बाद राज्य सरकार ने मेट्रो प्रोजेक्ट के लिए पेड़ों की कटाई शुरू की. सरकार की योजना तकरीबन 2,600 पेड़ काटने की थी. अब तक 400 से ज्यादा पेड़ काटे जा चुके हैं. 

इस बीच, सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने सोमवार को आरे कॉलोनी में पेड़ों की कटाई पर रोक लगा दी. सुप्रीम कोर्ट ने राज्य सरकार को आदेश दिया कि वह 21 अक्टूबर को होने वाली मामले की अगली सुनावई तक यथावत स्थिति बनाए रखे. शीर्ष अदालत ने हालांकि राज्य सरकार के उस बयान को दर्ज कर लिया है, जिसमें उन्होंने कहा था कि अब आरे में पेड़ नहीं काटे जाएंगे.