close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सचिन तेंदुलकर को उम्मीद, धोनी अब मैच के अंत तक खेलकर टीम को जिताएंगे

पूर्व क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने धोनी की तारीफ करते हुए कहा कि उन्होंने एक बार फिर फिनिशिंग की अपनी काबिलियत साबित कर दी है. 

सचिन तेंदुलकर को उम्मीद, धोनी अब मैच के अंत तक खेलकर टीम को जिताएंगे
महेंद्र सिंह धोनी ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे वनडे में 55 रन बनाए थे. उन्होंने आखिरी ओवर में छक्का लगाकर टीम को जीत दिलाई थी. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: महेंद्र सिंह धोनी ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे वनडे में जैसे ही ‘मैच फिनिश’ किया, लोग उनकी तारीफों के कसीदे गढ़ने लगे. तारीफ करने वालों में पूर्व क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर भी हैं. उन्होंने धोनी की तारीफ करते हुए कहा कि उन्होंने एक बार फिर फिनिशिंग की अपनी काबिलियत साबित की. पूरी उम्मीद है कि वे अब से अंत तक पारी को आगे बढ़ाएंगे.

पूर्व क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने महेंद्र सिंह धोनी की ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे वनडे में ‘मैच फिनिश’ करने की काबिलियत की प्रशंसा की और कहा कि अब से वे अंत तक पारी को आगे बढ़ाएंगे. धोनी ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे वनडे के दौरान मैच ‘फिनिश’ करने की अपनी काबिलियत का नजारा पेश किया और तेंदुलकर ने इसे उनकी सोच प्रक्रिया का नतीजा बताया. 

यह भी पढ़ें: रवि शास्त्री ईमानदारी से फीडबैक देते हैं, इससे मुझे काफी मदद मिलती है: विराट कोहली

सचिन तेंदुलकर ने अपने ऐप ‘100एमबी’ में कहा, ‘कल (मंगलवार) को उनका योगदान काफी अच्छा था. पहले मैच में मुझे लगा कि वे थोड़ा लय में नहीं थे. वे गेंद को वहां नहीं हिट कर पा रहे थे, जहां वे चाहते थे और ऐसा किसी के भी साथ हो सकता है. वे दूसरे मैच में कुछ अलग सोचकर उतरे थे. वे इस बार पहली ही गेंद से अलग खिलाड़ी दिखे.’ 

एमएस धोनी पारी को बढ़ाने और मैच फिनिश करने दोनों में माहिर हैं, लेकिन पिछले कुछ समय से उनकी फार्म पर सवाल उठ रहे थे. सचिन तेंदुलकर ने कहा, ‘वे ऐसे खिलाड़ी हैं जो कुछ खाली गेंद छोड़ना पसंद करते हैं. वे विकेट को समझते हैं, देखते हैं कि गेंदबाज कैसी गेंदबाजी कर रहे हैं और वे मैच को अंत तक ले जाना पसंद करते हैं. उन्होंने ऐसा ही किया. वे ऐसे खिलाड़ी हैं जो एक छोर से खेल को नियंत्रित करेगा.’ 

यह भी पढ़ें: #10YearChallenge: ICC का धोनी के सिक्स को सलाम, 10 साल में कोई नहीं उनका सानी 

 

सचिन तेंदुलकर ने दिनेश कार्तिक की भी ‘फिनिशर’ के तौर पर तारीफ की, जिन्होंने अंतिम ओवरों में धोनी के अनुभव का पूरा साथ निभाया. उन्होंने कहा, ‘कल धोनी के साथ दिनेश कार्तिक ने भी अच्छा खेल दिखाया. वे आए और अंत तक मैच खत्म होने तक रहे. दिनेश का भी यह शानदार योगदान रहा. धोनी अंत तक रहे और उनका अनुभव काम आया.’ 

उधर, पूर्व कप्तान सुनील गावस्कार ने कहा, ‘कृपया इस खिलाड़ी (एमएस धोनी) को छोड़ दीजिए. मैं प्रार्थना करता हूं कि इस भद्र खिलाड़ी को अकेला छोड़ दिया जाए और वे अच्छा खेलना जारी रखेंगे. धोनी की टीम में अहमियत का आकलन नहीं किया जा सकता. भरोसा रखिए कि वे अच्छा प्रदर्शन करेंगे.’ 

(इनपुट: भाषा)