जब पाकिस्तान के सईद अनवर ने वनडे में खेली तूफानी पारी, पर सचिन की चाल में फंस गए

21 मई 1997 के इंडिपेंडेंस कप के एक मुकाबले में पाकिस्तान के सलामी बल्लेबाज सईद अनवर ने टीम इंडिया के खिलाफ 194 रन बनाए थे.

जब पाकिस्तान के सईद अनवर ने वनडे में खेली तूफानी पारी, पर सचिन की चाल में फंस गए
सईद अनवर का वर्ल्ड रिकॉर्ड दस साल से ज्यादा वक्त तक बरकरार रहा था.(फोटो-Reuters)

नई दिल्ली: वनडे मुकाबलों में क्रिकेट फैंस को उम्मीद रहते ही कि उनके पसंदीदा बल्लेबाज एक बड़ा स्कोर बनाएं, शतक से कम कोई भी डिमांड नहीं करता. हम बात कर रहे हैं उस दौर की जब वनडे क्रिकेट में 150 से ज्यादा का निजी स्कोर बना पाना किसी भी बल्लेबाज के लिए बेहद मुश्किल होता था. हांलाकि ये कारनामा कई बल्लेबाजों ने किया था, लेकिन उनकी तादात काफी कम थी, साल 1997 के इंडिपेंडेंस कप टूर्नामेंट में पाकिस्तान के सलामी बल्लेबाज ने वो कारनामा कर दिखाया जिसकी किसी को उम्मीद नहीं थी.

साल 1997 को भारत और पाकिस्तान अपनी आजादी की 50वीं सालगिरह मना रहा था. इस मौके पर इंडिपेंडेंस कप का आयोजन किया गया था. ये 4 देशों के बीच खेला गया टूर्नामेंट था जिसमें भारत, पाकिस्तान के अलावा श्रीलंका और न्यूजीलैंड की टीम भी शामिल थी. चेन्नई में इस टूर्नामेंट का छठा मैच भारत और पाकिस्तान के बीच खेला गया था. जहां पाक टीम ने पहले बल्लेबाजी की, और इस टीम के ओपनर सईद अनवर (Saeed Anwar) ने धुआंधार बैटिंग करते हुए 146 गेंदों में 194 रन की धमाकेदार पारी खेली थी. ये इतिहास के पन्नों पर हमेशा के लिए दर्ज हो गई.

सईद अपने दोहरे शतक से महज 6 रन दूर थे, तभी सचिन तेंदुलकर ने उन्हें सौरव गांगुली के हाथों कैच करा दिया. ये उस वक्त का वर्ल्ड रिकॉर्ड था जो काफी दिनों तक बरकरार रहा. सईद को इस रिकॉर्ड की खुशी तो थी, लेकिन दोहरा शतक न बना पाने का मलाल भी था. 2009 में जिम्बाब्वे के चार्ल्स कोवेंट्री ने 194* रन बनाकर सईद के वर्ल्ड रिकॉर्ड की बराबरी की थी. दिलचस्प बात ये है कि जिस सचिन तेंदुलकर ने सईद अनवर को दोहरा शतक बनाने से रोका था, उसी मास्टर ब्लास्टर ने सईद के रिकॉर्ड को तोड़ते हुए वनडे में नाबाद डबल सेंचुरी बनाई थी.