पाकिस्तानी क्रिकेटर शाहीन अफरीदी ने बांग्लादेशी बल्लेबाज को मारी गेंद, ICC ने नहीं किया रहम, मिली कड़ी सजा
X

पाकिस्तानी क्रिकेटर शाहीन अफरीदी ने बांग्लादेशी बल्लेबाज को मारी गेंद, ICC ने नहीं किया रहम, मिली कड़ी सजा

पाकिस्तान के गेंदबाज शाहीन शाह अफरीदी ने ढाका में दूसरे टी20 मैच के दौरान बांग्लादेश के बल्लेबाज अफीफ हुसैन को थ्रो मारने के बाद उनसे माफी मांगी है, लेकिन आईसीसी ने उन्हें कड़ी सजा दी है. 

 

पाकिस्तानी क्रिकेटर शाहीन अफरीदी ने बांग्लादेशी बल्लेबाज को मारी गेंद, ICC ने नहीं किया रहम, मिली कड़ी सजा

नई दिल्ली: पाकिस्तान की टीम बांग्लादेश के दौरे पर है, जहां वह टी20 सीरीज खेल रही है. इस सीरीज के दूसरे टी20 मैच में हुई एक घटना हुई, जिसने सभी का ध्यान अपनी ओर खींचा है. पाकिस्तान के गेंदबाज शाहीन अफरीदी ने बांग्लादेश के बल्लेबाज अफीक हुसैन को गेंद फेंककर मार दी थी. अब आईसीसी (ICC) ने उन्हें इसकी कड़ी सजा दी है. 

मैच में हुई थी ये घटना 

बांग्लादेश और पाकिस्तान के बीच खेले गए दूसरे टी20 मैच के दौरान ऐसी घटना हुई, जिससे वहां मौजूद सभी लोग हैरान हो गए. दरअसल बांग्लादेश के बल्लेबाज अफिक हुसैन ने शाहीन अफरीदी पर छक्का लगाया, जिससे वो अपना आपा खो बैठे. अगली गेंद को हुसैन ने डिफेंड किया था, लेकिन जैसे ही गेंद शाहीन के पास पहुंची उन्होंने उसे हुसैन की तरफ थ्रो किया. गेंद बल्लेबाज को तेजी से लगी और हुसैन मैदान पर ही गिर गए. 

शाहीन अफरीदी हुए थे परेशान 

जब शाहीन अफरीदी ने अफीक को गेंद मारी थी, वो इससे गिर गए और दर्द से कराहने लगे, जिसे शाहीन अफरीदी घबरा गए. वह बल्लेबाज के पास गए और उसे उठाया. पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम ने भी अफीक हुसैन का हालचाल पूछा. अफीक ठीक से चल नहीं पा रहे थे, लेकिन अच्छी बात ये रही कि उन्हें ज्यादा चोट नहीं लगी. अफीक को गिरता देखकर शाहीन का गुस्सा अचानक शांत हो गया. 

शाहीन ने मांगी माफी 

मैच के खत्म होने के बाद शाहीन अफरीदी बांग्लादेशी बल्लेबाज अफिक हुसैन के पास गए और उन्हें गले लगाकर माफी मांगी. अफिक हुसैन ने भी सारे गिले शिकवे दूर करते हुए अफरीदी को गले लगा लिया. पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने ट्विटर पर इस वीडियो को को शेयर किया है. 

आईसीसी ने दी ये सजा 

आईसीसी (ICC) शाहीन अफरीदी के बल्लेबाज अफीक हुसैन पर गेंद फेंकने को अपराध माना है. माफी मांगने के बावजूद उन पर मैच फीस का 15 फीसदी जुर्माना लगाया गया है. पिछले 24 महीने में शाहीन का ये पहला अपराध है इसलिए उन्हें बैन नहीं किया गया है. 

 

Trending news