close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

Bridgetown Test: होल्डर की रिकॉर्ड पारी से विंडीज ने इंग्लैंड को दिया 600 से बड़ा लक्ष्य

वेस्टइंडीज ने पहले टेस्ट में इंग्लैंड को जीतने के लिए 628 रन का लक्ष्य दिया है. इंग्लैंड ने जवाब में बिना विकेट गंवाए 56 रन बना लिए हैं. 

Bridgetown Test: होल्डर की रिकॉर्ड पारी से विंडीज ने इंग्लैंड को दिया 600 से बड़ा लक्ष्य
वेस्टइंडीज के कप्तान जेसन होल्डर (बाएं) ने 202 रन की पारी खेली. (फोटो: Reuters)

ब्रिजटाउन: मेजबान वेस्टइंडीज ने कप्तान जेसन होल्डर (202) की शानदार पारी की बदौलत इंग्लैंड के खिलाफ (West Indies vs England) पहले टेस्ट में मजबूत पकड़ बना ली है. उसने मैच (Bridgetown Test) के तीसरे दिन शुक्रवार (25 जनवरी) को इंग्लैंड के सामने 628 रन का विशाल लक्ष्य रखा है. इसके जवाब में दिन का खेल खत्म होने तक इंग्लैंड ने अपनी दूसरी पारी में बिना कोई विकेट खोए 56 रन बना लिए हैं. 

वेस्टइंडीज ने पहली पारी में 289 रन बनाए हैं. इसके बाद उसके गेंदबाजों ने इंग्लैंड को पहली पारी में महज 77 रन पर ढेर कर दिया. इस तरह विंडीज को पहली पारी में 212 रन की बढ़त मिली. वेस्टइंडीज की दूसरी पारी की शुरुआत अच्छी नहीं रही. उसने एक समय 61 रन पर पांच विकेट गंवा दिए थे, लेकिन इसके बाद कप्तान जेसन होल्डर (नाबाद 202) और शेन डॉवरिच (नाबाद 116) ने ना सिर्फ पारी संभाली, बल्कि अपनी टीम को 415/6 के विशाल स्कोर तक पहुंचा दिया. 

यह भी पढ़ें: PAKvsSA: इमाम उल हक के शतक के बावजूद हारा पाकिस्तान, हेंड्रिक्स की धमाकेदार पारी

वेस्टइंडीज ने तीसरे दिन की शुरुआत छह विकेट के नुकसान पर 127 रन के साथ की थी. इंग्लैंड को उम्मीद थी कि वह मेजबान टीम को जल्दी पवेलियन लौटा देगी, लेकिन होल्डर और शेन कुछ और ही सोचकर उतरे थे. दोनों ने मेहमान टीम के मंसूबों पर पारी फेरते हुए सातवें विकेट के लिए 295 रन की रिकॉर्ड साझेदारी की. यह टेस्ट में सातवें विकेट के लिए की गई तीसरी सबसे बड़ी साझेदारी है. 

वेस्टइंडीज के लिए सातवें विकेट के लिए दूसरी सबसे बड़ी साझेदारी भी है. टेस्ट में और वेस्टइंडीज के लिए सातवें विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी का रिकार्ड डेनिस एटकिन्सन और क्लारेमोंटे डेपेइजा के नाम है, जिन्होंने ब्रिजटाउन में ही 14 मई 1955 को वेस्टइंडीज के लिए सातवें विकेट के लिए 347 रन जोड़े थे. होल्डर ने केटन जेनिंग्स पर चौका मार अपना पहला दोहरा शतक पूरा किया और इसी के साथ पार समाप्ति की घोषणा कर दी. 

उन्होंने अपनी पारी में 229 गेंदों का सामना किया और 23 चौकों के अलावा आठ छक्के लगाए. शेन ने अपने कप्तान का बेहतरीन साथ दिया और विकेट पर जमे रहे. इन दोनों ने तीसरे दिन इंग्लैंड को एक भी विकेट नहीं लेने दिया. शेन ने अपनी पारी में 224 गेंदों का सामना किया और 11 चौकों के अलावा एक छक्का मारा. 

इंग्लैंड को भी तीसरे दिन कोई झटका नहीं लगा. रोरी बर्न्‍स 39 रन बनाकर नाबाद हैं तो वहीं जेनिंग्स 11 रन बनाकर खेल रहे हैं. इंग्लैंड को अभी भी जीत के लिए 572 रन की दरकार है. उसके पास इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए दो दिन का समय है. 

(इनपुट: आईएएनएस)