IPL 2020: 14 महीने बाद मैदान पर होगी धोनी की वापसी, CSK के कोच ने कही बड़ी बात

आईपीएल  2020 के आगाज से पहले चेन्नई सुपरकिंग्स के हेड कोच स्टीफन फ्लेमिंग ने महेंद्र सिंह धोनी की एक साल बाद क्रिकेट में वापसी को लेकर बड़ा बयान दिया है.   

IPL 2020: 14 महीने बाद मैदान पर होगी धोनी की वापसी, CSK के कोच ने कही बड़ी बात

नई दिल्ली: आईपीएल 2020 (IPL 2020) से पहले सभी फ्रेंचाइजी टीम अपने-अपने खिलाड़ियों और टीम को लेकर राय दे रहे हैं. इस बीच आईपीएल की सबसे सफल टीमों में से एक चेन्नई सुपरकिंग्स के हेड कोच स्टीफन फ्लेमिंग (Stephen Fleming) ने टीम के कप्तान और पूर्व भारतीय खिलाड़ी महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) को लेकर अपनी प्रतिक्रिया दी है. दरअसल स्टीफन फ्लेमिंग ने धोनी के 1 साल से अधिक समय बाद क्रिकेट के मैदान पर वापसी को लेकर बड़ी बात कही है. 

यह भी पढ़ें- IPL 2020: हार्दिक के अलावा नए फिनिशर्स तैयार कर रही है मुंबई टीम, कोच ने किया खुलासा

1 साल का ब्रेक धोनी के लिए फायदेमंद: स्टीफन फ्लेमिंग
गौरतलब है कि टीम इंडिया (Team India) के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने साल 2019 के विश्व कप (World Cup 2019) के दौरान न्यूजीलैंड के खिलाफ सेमीफाइनल मैच खेला था. उसके बाद माही लगभग 14 महीनों के बाद अब क्रिकेट के मैदान पर लौट रहे हैं. इस बीच धोनी ने 15 अगस्त 2020 को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा भी कह दिया. ऐसे में एसएसडी (MSD) के एक बार फिर से क्रिकेट में कमबैक को लेकर सीएसके के कोच स्टीफन फ्लेमिंग ने कहा है कि 1 साल का ब्रेक धोनी के लिए काफी फायदेमंद रहा है.

इस ब्रेक की बदौलत धोनी पहले से ज्यादा फिट, मानसिक तौर पर मजबूत और तरोताजा नजर आ रहे हैं, जो टूर्नामेंट में उनकी बल्लेबाजी और कप्तानी के लिए लाभयादक रहेगा. बेशक माही ने इंटरेशनल क्रिकेट से संन्यास ले लिया है, लेकिन उनमें कुछ भी बदला नहीं है. वह पहले की तरह ही नेट्स में बैटिंग और विकेटकीपिंग कर रहे हैं. मालूम हो आईपीएल 2020 के तहत चेन्नई सुपरकिंग्स की पहली भिडंत 19 सितंबर को मुंबई इंडियंस (MI) के खिलाफ है. 

टीम में उम्रदाज खिलाड़ियों पर बोले स्टीफन फ्लेमिंग
दरसअल एक मीडिया इंटरव्यू के दौरान स्टीफन फ्लेमिंग ने महेंद्र सिंह धोनी समेत सीएसके (CSK) की टीम में मौजूद उम्रदाज खिलाड़ियों पर अपनी राय दी है. स्टीफन फ्लेमिंग के अनुसार चेन्नई सुपरकिंग्स में और टीमों की अपेक्षा 35 साल ज्यादा उम्र के खिलाड़ी हैं, लेकिन यह हमारे लिए फायेमंद बात है, क्योंकि इन वरिष्ठ खिलाड़ियों को क्रिकेट का अनुभव काफी अधिक होता है. 

पिछले सीजन में इन्हीं खिलाड़ियों ने अपने खेल से आलोचकों करारा जवाब दिया है. ये खिलाड़ी मैच के दौरान किसी भी हालात में खुद को ढ़ाल सकते हैं और दवाब भी झेल सकते हैं. मैं अच्छी तरह से जानता हूं की धोनी, शेन वॉटसन, केधार जाधव और इमरान ताहिर जैसे प्लेयर्स किसी भी समय अपने दम पर मैच का पासा पटलने का दमखम रखते हैं.