close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

IPL 2019: ऑरेंज कैपधारी वार्नर चौके-छक्के के लिए तरसे, फिर भी बना दिए ये रिकॉर्ड

आईपीएल में राजस्थान और हैदराबाद के बीच हुए मैच में डेविड वार्नर 38 रनो की पारी में एक भी छक्का या चौका नहीं लगा सके फिर भी अपने नाम ये रिकॉर्ड बना ही गए. 

IPL 2019: ऑरेंज कैपधारी वार्नर चौके-छक्के के लिए तरसे, फिर भी बना दिए ये रिकॉर्ड
(फोटो: PTI)

नई दिल्ली: इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में इस साल डेविड वार्नर ने आते ही कमाल की बल्लेबाजी की. एक साल से बॉल टेम्परिंग विवाद के कारण क्रिकेट से दूर रहे वार्नर से किसी को भी यह उम्मीद नहीं थी कि वे इस सीजन में तूफानी बल्लेबाजी की मिसाल पूरी करेंगे. वार्नर का बल्ला सीजन में ऐसा चमका कि उन्होंने 10 पारियों में 8 से ज्यादा बार फिफ्ची प्लस बना डाले. फिर अचानक राजस्थान के खिलाफ मैच में डेविड वार्नर का बल्ला खामोश हो गया. इस पारी में वे एक चौका भी नहीं लगा सके. 

पहले तीन मैचों में पैदा कर लिया था खौफ
इस मैच कई मैच पहले ही डेविड वार्नर ने ऑरेंज कैप हासिल कर ली थी. पहले मैच में ही कोलकाता के खिलाफ उन्होंने तीन छक्के और नौ चौकों की मदद से 53 गेंदों पर 85 ठोक डाले थे और पहले मैच में ऑरेंज कैप पर कब्जा जमा लिया. इसके बाद राजस्थान के खिलाफ 9 चौके और दो छक्के लगा कर केवल 37 गेंदों में 69 की पारी खेली. फिर बेंगलुरू के खिलाफ उन्होंने 100 रनों की नाबाद पारी खेली. यहां तक वार्नर ने अपने फॉर्म से बाकी टीमों में खौफ पैदा कर लिया था.

यह भी पढ़े: VIDEO: मनीष पांडे हुए एक ही गेंद पर दो बार आउट, जानिए कैसे हुआ यह

 इस तरह चला बाकी मैचों में वार्नर का बल्ला
दिल्ली के खिलाफ 10 रन और मुंबई के खिलाफ 15 रनों की पारी के बाद वार्नर का बल्ला एक बार फिर बोला और उन्होंने पंजाब के खिलाफ 62 गेंदों में 70 रनों की नाबाद पारी खेली.  दिल्ली के खिलाफ 155 रनों का पीछा करते हुए 51रन बनाए पर वे टीम को जीत न दिला सके. यहां से वे हर मैच में अपनी टीम के लिए मजबूत नींव रखते चले गए चाहे चेन्नई के खिलाफ 25 गेदों में 50 रन हो या कोलकाता के खिलाफ 67 रनों की पारी. पिछले मैच में चेन्नई के खिलाफ वे 57 रनों की पारी खेल गए. 

David Warner

राजस्थान के खिलाफ खामोश रहे वार्नर, बना दिया यह रिकॉर्ड
राजस्थान के खिलाफ केवल वार्नर ने 32 गेदों में 37 रनों की पारी खेली और इस पारी में वे एक भी बाउंड्री नहीं लगा सके. इस पारी से उन्होंने एक खास रिकॉर्ड अपने नाम किया. उन्होंने आईपीएल में बिना बाउंड्री की सबसे बड़ी पारी खेली और अपने ही साथी स्टीव स्मिथ को पीछे छोड़ दिया. इससे पहले स्मिथ ने 2017 में पुणे की ओर से खेलते हुए हैदाराबाद के ही खिलाफ 39 गेदों पर 32 रनों की बिना बाउंड्री वाली पारी खेली थी. 

यह भी पढ़े: VIDEO: राजस्थान की जीत में जयदेव उनादकट का दोहरा धमाल, जीते दो अवार्ड

फिर भी हासिल कर ली यह उपल्बधि
10वें ओवर में वार्नर ने अपना स्कोर 29 किया तब वे आईपीएल के इस सीजन में 600 रन का आंकड़ा पार करने वाले पहले बल्लेबाज बन गए. वार्नर इससे पहले 2016 और 2017 में भी छह सौ से ज्यादा रन एक सीजन में बना चुके हैं. उनके अलावा क्रिस गेल 2011, 2012 और 2013 में छह सौ से ज्यादा रन बना चुके हैं. वहीं विराट कोहली अब तक केवल दो बार, 2013 और 2016 में छह सौ से ज्यादा रन आईपीएल के किसी सीजन में बना चुके हैं.  वार्नर के अब 11 मैचों में 611 रन हो गए हैं जिसमें उन्होंने 19 छक्के और 50 छक्के लगाए हैं. 

यह भी पढ़ें: VIDEO: यकीन नहीं होता, हैदराबाद की पारी में मुश्किल से लगा एक ही छक्का, वह भी आखिरी गेंद पर

राजस्थान को नहीं आई कोई दिक्कत
बिना वार्नर की बाउंड्री वाली पारी में भी मनीष पांडे की 61 रनों की साहसिक पारी के दम पर हैदराबाद की टीम 20 ओवर में 160 रन बनाने में कामयाब हो गई. टीम के लिए इन दोनों के अलावा कप्तान विलियमसन और राशिद खान ही दहाई का आंकडा़ छू सके. जितनी कठिनाई हैदराबाद को हो रही थी उतनी राजस्थान को नहीं हुई.राजस्थान ने 161 का लक्ष्य पांच गेंद शेष रहते अजिंक्य रहाणे (39), लियाम लिविंगस्टोन (44) और संजू सैमसन (नाबाद 48) की मदद से केवल तीन विकेट खोकर हासिल कर लिया.