close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

PKL 2019: पटना पायरेट्स का बेंगलुरू बुल्स से मुकाबला, नाडा की जगह खेलेगा यह खिलाड़ी

पीकेएल के 7वें सीजन के अपने पहले मैच में पटना पाइरेट्स में सुरेंदर नाडा की जगह मोनू को खिलाया जा रहा है. 

PKL 2019: पटना पायरेट्स का बेंगलुरू बुल्स से मुकाबला, नाडा की जगह खेलेगा यह खिलाड़ी
पटना पायरेट्स का पहला मुकाबला पिछली बार की चैंपियन बेंगलुरू बुल्स से होगा (फोटो : Twitter/ @ProKabaddi)

नई दिल्ली: प्रो कबड़्डी लीग 2019 ( Pro Kabaddi League 2019) शनिवार को शुरू हो रहा है. शनिवार को ही सीजन को दूसरे मैच सीजन के मुकाबले शुरू होने से पहले ही तीन बार खिताब विजेता पटना पायरेट्स को एक झटका लगा जब उनके चोटिल स्टार डिफेंडर सुरेंदर नाडा सीजन से बाहर हो गए. टीम का पहला मुकाबला पिछले सीजन की विजेदा बेंगलुरू बुल्स से होना है. यह सीजन का दूसरा मुकाबला है. पहले मुकाबले में तेलुगु टाइटन्स की यू मुंबा से भिड़ंत होनी है. मैच से पहले टीम ने नाडा के विकल्प के रूप में मोनू को खिलाने की घोषणा की है. 

पिछले सीजन में  भी नहीं खेले थे नाडा
पटना पाइरेट्स की मेडिकल टीम ने पाया कि नाडा अभी भी पूरी से तरह से फिट नहीं हैं और चोट से अच्छी तरह से उबरने के लिए उन्हें और समय दिए जाने की जरूरत है. नाडा के चोट को देखते हुए उन्हें आराम करने की सलाह दी गई है.नाडा को पिछले सीजन में बाएं हाथ में चोट लग गई थी, जिसके कारण वह पिछले सीजन में भी टीम से बाहर थे. पटना की टीम ने नाडा को नीलामी में 77 लाख रुपये में खरीदा था. टीम ने अभी तक उनके स्थान पर किसी अन्य खिलाड़ी के नाम की घोषणा नहीं की है.

यह भी पढ़ें: PKL 2019: तेलुगु टाइन्स-यु मुंबा मैच से होगा सीजन का आगाज, अलग है इस बार का फॉर्मेट

ऑलराउंडर पोजीशन में खेलेंगे मोनू
नाडा की जगह मोनू को शामिल करने की जानकारी पटना पाइरेट्स की टीम ने शनिवार को अपने आधिकारिक ट्विटर पर दी. टीम ने ट्विटर पर लिखा, "स्वागत कीजिए मोनू का जो खेलेंगे ऑलरांडर पोजिशन में. उन्हें चोटिल सुरेंदर नाडा की जगह टीम में शामिल किया गया है." फ्रेंचाइजी द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, नाडा पिछले सीजन में चोटिल हो गए थे और वह अभी तक चोट से पूरी तरह से उबर नहीं पाए हैं.

कप्तान प्रदीप रनवाल मेन रेडर होंगे उन्हें जैंग कुन ली का साथ मिल सकता है. इसके अलावा मोहम्मद मगसूदलु भी रेडर के रूप में उपलब्ध है. जयदीप और मोनू ऑलराउंडर के तौर पर दिखाई दे सकते हैं. डिफेंस की कमान जवाहर डागर के पास होगी  उन्हें नीरज कुमार का साथ मिल सकता है.

यह भी पढ़ें: कबड्डी खिलाड़ी रविंदर पहल ने बताई अपनी सबसे बड़ी ताकत, रिकॉर्ड तोड़ने का है मौका

अब तक के सभी सीजन को देखें तो पटना पाइरेट्स सबसे सफल टीम रही है. उसने तीसरे, चौथे और पांचवें सीजन, लगातार तीन बार खिताब जीता था. केवल पिछला सीजन पटना के लिए निराशाजनक रहा था वे प्लेऑफ में जगह नहीं बना सके थे. प्रदीप नरवाल की कप्तानी में टीम इस सीजन में वापसी को बेताब तो है, लेकिन टीम इसको लेकर किसी तरह के दबाव में नहीं है. 
(इनपुट आईएएनस)