विराट कोहली बने देश के 35वें ‘खेल रत्न’, यह अवॉर्ड जीतने वाले तीसरे क्रिकेटर

राष्ट्रपति ने मंगलवार को विराट कोहली को खेल रत्न अवॉर्ड दिया. वे महेंद्र सिंह धोनी के बाद यह अवॉर्ड हासिल करने वाले पहले क्रिकेटर हैं. 

विराट कोहली बने देश के 35वें ‘खेल रत्न’, यह अवॉर्ड जीतने वाले तीसरे क्रिकेटर
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मंगलवार को विराट कोहली को प्रतिष्ठित राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार से सम्मानित किया. (फोटो: PTI)
Play

नई दिल्ली: स्टार क्रिकेटर विराट कोहली देश के 35वें ‘खेल रत्न’ बन गए हैं. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मंगलवार को कोहली को राजीव गांधी खेल रत्न अवॉर्ड से सम्मानित किया. वेटलिफ्टर मीराबाई चानू को भी यह अवॉर्ड मिला है. इन दोनों से पहले देश के 34 खिलाड़ियों को यह सम्मान मिल चुका है. इस तरह 35वां ज्वाइंट ‘खेल रत्न’ कोहली और मीराबाई चानू के नाम हो गया है. 

खेल पुरस्कार हर साल खेल दिवस के मौके पर 29 अगस्त को दिए जाते हैं. इस साल अगस्त और सितंबर के बीच इंडोनेशिया में 18वें एशियन गेम्स चल रहे थे. इसलिए खेल पुरस्कार समारोह को 25 सितंबर तक के लिए टाल दिया गया था. खेल रत्न विजेता को मेडल और प्रशस्ति पत्र सहित 7.5 लाख रुपए का पुरस्कार दिया गया.  
 

 

धोनी के बाद पहली बार क्रिकेटर को खेल रत्न 
खेल रत्न अवॉर्ड पहली बार 1991-92 में विश्वनाथन आनंद को दिए गया गया था. उनके बाद 33 और खिलाड़ियों को यह अवॉर्ड दिया गया. यह सिर्फ तीसरा मौका है, जब किसी क्रिकेटर को यह अवॉर्ड दिया गया है. उनसे पहले सिर्फ दो क्रिकेटरों सचिन तेंडुलकर (1997) और महेंद्र सिंह धोनी (2007) को यह अवॉर्ड दिया गया है. कोहली उन चुनिंदा खिलाड़ियों में शामिल हैं, जिन्होंने खेल रत्न पुरस्कार से पहले पद्म श्री पुरस्कार (2017) हासिल किया है.

यह भी पढ़ें: बजरंग पूनिया की जगह विराट कोहली को खेल रत्न के लिए क्यों चुना गया, खेल मंत्रालय ने दी सफाई

बोर्ड ने 2016 और 2017 में भी सिफारिश की थी 
बीसीसीआई ने 2016 और 2017 में भी खेल रत्न के लिए विराट कोहली के नाम की सिफारिश की थी, लेकिन 2016 में साक्षी मलिक, पीवी सिंधु और दीपा कर्माकर के रियो ओलंपिक में शानदार प्रदर्शन के कारण वे इस खिताब के लिए नहीं चुने गए. साल 2017 में पूर्व हॉकी खिलाड़ी सरदार सिंह और पैरा एथलीट देवेंद्र झझारिया को यह पुरस्कार दिया गया था. 

 


खेल समारोह में ‘खेल रत्न’ विराट कोहली की पत्नी अनुष्का शर्मा भी मौजूद थीं. (फोटो: IANS)

छठी बार दिया गया ज्वाइंट ‘खेल रत्न’ 
यह छठा मौका है, जब दो खिलाड़ियों को ज्वाइंट खेल रत्न अवॉर्ड दिया गया. सबसे पहले 1993-94 में होमी मोतीवाला और पुष्पेंद कुमार गर्ग को ज्वाइंट अवॉर्ड दिया गया. इसके बाद 2002 में एथलीट केएम बीनामोल और शूटर अंजलि भागवत ज्वाइंट खेल रत्न बनीं. साल 2009 में एमसी मैरीकॉम, विजेंदर और सुशील कुमार को ज्वाइंट खेल रत्न दिया गया. साल 2012 में योगेश्वर दत्त और विजय कुमार को यह अवॉर्ड मिला. 2016 में पीवी सिंधु, दीपा कर्माकर, साक्षी मलिक और 2017 में सरदार सिंह और देवेंद्र झाझरिया को ज्वाइंट खेल रत्न दिया गया था.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.