cpec project

दोस्त नहीं रहे चीन और पाकिस्तान, बने एक-दूसरे की जान के दुश्मन?

14 जुलाई को पाकिस्तान के ख़ैबर पख़्तूनख़्वा इलाके में एक घातक हमले के दौरान चीन के 9 इंजीनियरों की जान चली गई.. जिसके बाद से यहां काम कर रहे चीनी लोगों में दहशत बैठ गई.. और वो अपने टूल्स के साथ-साथ कंधे पर एके-47 रखकर काम कर रहे हैं.. पूरा मामला क्या है चलिए आपको बताते हैं..

Jul 24, 2021, 07:07 AM IST

ସୁରକ୍ଷା ଦେବାରେ ବିଫଳ Pakistan; ହାତରେ ବନ୍ଧୁକ ଧରି କାମ କରୁଛନ୍ତି Chinese Engineers

ସିପିଇସି ପ୍ରକଳ୍ପରେ କାର୍ଯ୍ୟରତ ଚୀନୀ ନାଗରିକଙ୍କୁ ସୁରକ୍ଷା ଦେବା ଲାଗି ଚୀନ ସରକାରଙ୍କୁ ଆଶ୍ୱସନା ଦେଇଥିଲେ ପାକିସ୍ତାନ ସରକାର।

Jul 22, 2021, 02:28 PM IST

Fish ବିକି China Loan ଶୁଝିବ Pakistan Govt

ପାରମ୍ପରିକ ମିତ୍ର ପାକିସ୍ତାନକୁ ଆର୍ଥିକ ସହାୟତା ଦେବା ସହ ସିପିଇସି ପ୍ରକଳ୍ପରେ ବିପୁଳ ପୁଞ୍ଜି ନିବେଶ କରିଛି ଚୀନ। 

Jun 30, 2021, 11:18 PM IST

CPEC Project: Gwadar Port पर चीन की साजिश, मिलिट्री बेस पर बना रहा फेंसिंग

चीन ग्वादर (Gwadar Sea Port) में मिलिट्री बेस बनाकर बड़ी संख्या में PLA सैनिकों की तैनाती करना चाहता है. ग्वादर एयरपोर्ट का इस्तेमाल भी चीन अपने फाइटर जेट्स को तैनाती के लिए करना चाहता है. करीब 30 किलोमीटर लंबी इस फेंसिंग से बलूचिस्तान (Balochistan) के लोग पाकिस्तान और चीन से काफी नाराज हैं.

Dec 24, 2020, 10:03 AM IST

चीन में बेची जा रही हैं पाकिस्तानी महिलाएं, फिर ढकेला जाता है वेश्यावृत्ति में

एक महिला नताशा मसीह (19) का कहना था कि उसका नया पति- एक चीनी व्यक्ति जिसे उसके परिवार ने शादी में बेच दिया था -उसे प्रताड़ित कर रहा था. आखिरकार वह टूट गई और उसने अपनी मां को पूरी कहानी सुनाई और उनसे उसे घर लाने की गुहार लगाई.

Jun 17, 2019, 05:47 PM IST

CPEC: चीन की मदद से पाकिस्तान और मजबूत करेगा अपना कम्यूनिकेशन सिस्टम

इस योजना के तहत पाकिस्तान और चीन को जोड़ने वाले फाइबर ऑप्टिक केबल और इंटरनेट यातायात के लिए नया पनडुब्बी लैंडिंग स्टेशन आदि शामिल है.

Oct 1, 2017, 08:39 PM IST

बलूचिस्तान : बंदूकधारियों ने CPEC परियोजना से जुड़े 10 मजदूरों की गोली मारकर हत्या की

पाकिस्तान के अशांत बलूचिस्तान प्रांत में सामरिक तौर पर अहम ग्वादर बंदरगाह के पास एक सड़क परियोजना पर काम कर रहे कम से कम 10 मजदूरों की बंदूकधारियों ने गोली मारकर हत्या कर दी. ग्वादर के उपायुक्त नईम बज़ाई ने कहा कि मजदूर एक सड़क परियोजना पर काम कर रहे थे और सिंध प्रांत के थे.

मई 13, 2017, 07:31 PM IST