Euro News

alt
मुंबईः अभी तक आपने सोने, चांदी, नशीले पदार्थ जैसी तमाम चीजों की तस्करी के बारे में सुना-पढ़ा होगा लेकिन आज हम जो आपको बताने जा रहे है वो थोड़ा अलग किस्म की तस्वीर है. ये तस्करी है यूरोपिय़न यूनियन में चलने वाली मुद्रा यूरो डॉलर की. दक्षिण मुंबई के डोंगरी पुलिस स्टेशन को अपने मुखबिरो से खबर मिली कि जफर अब्बास नाम का एक शख्स विदेशियों से यूरो लेता है और उन्हे इंडियन करेंसी देता हैं. पुलिस ने मामले की जांच शुरु की, तो उसका पहला काम यह पता लगाना था कि क्या जफर कानूनी रूप से मनी एक्सचेंज करने का लाइसेंस मिला हुआ हैं या नही? इसके साथ ही पुलिस को यह भी पता लगाना था कि मिले हुए यूरो का वह क्या करता हैं?
Jan 30,2019, 14:06 PM IST

Trending news