लैपटॉप की बैटरी नहीं दे रही साथ, करें ये 8 उपाय battery life हो जाएगी बेहतर

अगर डे-टू-डे टास्क के दौरान बैटरी बैकअप की समस्या आने लगे तो फिर आपको ये तरीके आजमाने चाहिए. इससे बैटरी की लाइफ (battery life) बेहतर हो जाएगी.

लैपटॉप की बैटरी नहीं दे रही साथ, करें ये 8 उपाय battery life हो जाएगी बेहतर
प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली: लैपटॉप (Laptop) नया हो, तो बैटरी बैकअप (battery backup) की कोई परेशानी नहीं होती है, लेकिन धीरे-धीरे लैपटॉप में भी बैटरी बैकअप की समस्या आने लगती है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि लैपटॉप की क्वालिटी सही नहीं है, बल्कि लैपटॉप इस्तेमाल करने के तरीके से भी बैटरी पर असर पड़ता है. अगर डे-टू-डे टास्क के दौरान बैटरी बैकअप की समस्या आने लगे तो फिर आपको ये तरीके आजमाने चाहिए. इससे बैटरी की लाइफ (battery life) बेहतर हो जाएगी.

डिस्प्ले को ज्यादा ब्राइट न रखें
लैपटॉप पर कार्य करने के दौरान अधिकतर समय डिस्प्ले ब्राइटनेस को अधिकतम लेवल पर रखने की जरूरत नहीं होती है. अगर ब्राइटनेट का लेवल मैक्सिमम है तो इसका असर बैटरी के साथ-साथ आपकी आंखों पर भी होता है. कोरोना वायरस की वजह से अभी भी बहुत सारे लोग घर से ही कार्य कर रहे हैं और घर पर ऑफिस की तरह लाइटिंग की बेहतर सुविधाएं नहीं होती हैं, लेकिन फिर भी ब्राइटनेस लेवल को कम करने से कार्य प्रभावित नहीं होगी. अधिकतर लैपटॉप में दो फंक्शन कीज होती हैं, जिनकी मदद से ब्राइटनेस लेवल को कम या ज्यादा किया जा सकता है. यदि आपके लैपटॉप में ये बटन नहीं हैं, तो आप सेटिंग> सिस्टम> डिस्प्ले में जाकर ब्राइटनेस लेवल को एडजेस्ट कर सकते हैं.

माइक्रोसॉफ्ट एज ब्राउजर का करें उपयोग
आप लैपटॉप पर जिस ब्राउजर का इस्तेमाल कर रहे हैं, इसका असर लैपटॉप की बैटरी पर भी होता है. Microsoft के Internet Explorer को लेकर कई सारे मीम्स बन चुके हैं, लेकिन Microsoft का दावा है कि उसका Edge browser गूगल के क्रोम, फायरफॉक्स और ओपेरा जैसे अन्य ब्राउजरों की तुलना में अधिक बैटरी बचाता है. यानी लैपटॉप पर बैटरी बचाने के लिए एज ब्राउजर का इस्तेमाल आपके लिए बेहतर हो सकता है.

बैटरी के खत्म होने की प्रतीक्षा न करें
ज्यादातर लोगों की आदत होती है कि वे चार्जिंग केबल को हर समय लैपटॉप से जोड़कर रखते हैं या फिर बैटरी के बेहद कम होने पर उसे कनेक्ट करते हैं. लेकिन बैटरी की लंबी लाइफ के लिए आपको इन चीजों से बचना होगा. जब लैपटॉप की बैटरी 40 से 80 फीसदी तक चार्ज रखें. 

कीबोर्ड बैकलाइट को बंद करें
अगर लैपटॉप बैकलाइट सपोर्ट के साथ आता है, लेकिन आपको इसकी जरूरत नहीं है, तो इसे बंद करना ही सही रहेगा, क्योंकि जहां पर रोशनी की अच्छी स्थिति होती है, वहीं पर कीबोर्ड बैकलाइट की आवश्यकता नहीं होती है. आप इसे बस कीबोर्ड पर एक फंक्शन बटन दबाकर बंद कर सकते हैं या फिर इसे विंडोज मोबिलिटी सेंटर से बंद कर सकते हैं.

लंबी बैटरी लाइफ
यदि आप रेगुलर ऑफिस वर्क कर रहे हैं और लैपटॉप पर हैवी सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं, तो फिर आपको बेस्ट बैटरी लाइफ या बेस्ट परफॉर्मेंस वाले मोड में स्वीच करना चाहिए. इसके लिए आपको बस अपने टास्कबार में बैटरी आइकन पर क्लिक करना होगा और यहां पर आपको बेस्ट परफॉर्मेंस और बैटरी सेविंग में सही बैलेंस को चुनना होगा.

बैटरी सेवर मोड
Android और iOS डिवाइस की तरह ही लैपटॉप भी बैटरी सेवर मोड का इस्तेमाल करता है, जब बैटरी 20 प्रतिशत से नीचे पहुंच जाती है. आप बैटरी सेवर को सेटिंग> सिस्टम> बैटरी में जाकर देख सकते हैं. जब बैटरी सेवर मोड सक्रिय हो जाता है, तो ईमेल- कैलेंडर सिंकिंग, पुश नोटिफिकेशंस और जो एप्स बैकग्राउंड में रन करते हैं, वे डिसेबल हो जाते हैं.

अनावश्यक डिवाइस को अनप्लग करें
जब आप वेब कैमरा, एक्सटर्नल हार्ड ड्राइव जैसे डिवाइस का उपयोग नहीं करते हैं, तो उन डिवाइस को अनप्लग करना बेहतर होगा. आप माउस को भी डिसकनेक्ट कर सकते हैं, जब लैपटॉप स्लीप मोड में हो, क्योंकि उसमें बैटरी की खपत होती है.

ये भी पढ़ें: एंड्रॉयड फोन पर मंडरा रहा खतरा, चोरी हो सकता है यूजर्स का डेटा

ब्लूटूथ, वाई-फाई बंद रखें
जब उपयोग नहीं कर रहे हैं, तो आप ब्लूटूथ और वाई-फाई को बंद रख सकते हैं. जब आपको इसकी जरूरत हो, तब ऑन कर सकते हैं. इस तरह आप लैपटॉप की बैटरी लाइफ को बेहतर कर सकते हैं.