EMA की जांच में सुरक्षित मिला AstraZeneca का टीका, यूरोपीय देशों में दोबारा से शुरू हुआ Corona Vaccination

यूरोपीय देशों में एस्ट्राजेनेका (AstraZeneca) टीके से कोरोना वैक्सीनेशन फिर शुरू हो गया है. यूरोपीय दवा एजेंसी (EMA) ने जांच के बाद इस वैक्सीन को सुरक्षित बताया है.

EMA की जांच में सुरक्षित मिला AstraZeneca का टीका, यूरोपीय देशों में दोबारा से शुरू हुआ Corona Vaccination
फ्रांस के प्रधानमंत्री ने शुक्रवार को AstraZeneca का टीका लगवाया (साभार रायटर)

ब्रुसेल्स: यूरोपीय दवा एजेंसी (EMA) ने जांच के बाद कोरोना वैक्सीन एस्ट्राजेनेका (AstraZeneca) को सुरक्षित घोषित किया है. उसकी इस घोषणा के बाद यूरोपीय देशों ने फिर से कोरोना वैक्सीनेशन (Corona Vaccination) शुरू करने का ऐलान किया है. 

फ्रांस के पीएम ने लगवाया AstraZeneca का टीका

EMA की ओर से  एस्ट्राजेनेका (AstraZeneca) को सुरक्षित घोषित किए जाने के बाद फ्रांस, इटली, लातविया और बुल्गारिया ने घोषणा की कि वे जल्द ही इस टीके का दोबारा से इस्तेमाल शुरू कर देंगे. फ्रांस के प्रधानमंत्री जीन कैस्टेक्स ने लोगों में भरोसा बढ़ाने के लिए शुक्रवार को खुद एस्ट्राजेनेका का टीका लगवाया. स्वीडन के स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा कि वे EMA की रिपोर्ट का आकलन कर एस्ट्राजेनेका पर फैसला लेंगे. फिलहाल उनके यहां एस्ट्राजेनेका टीके पर रोक लगी हुई है. जर्मनी के स्वास्थ्य मंत्री जेन्स स्पेन ने कहा कि उनका देश शनिवार से इस टीके का दोबारा इस्तेमाल शुरू कर देगा. 

VIRAL VIDEO

EMA ने जांच के बाद टीके को सुरक्षित बताया

बताते चलें कि एस्ट्राजेनेका (AstraZeneca) वैक्सीन लगने के बाद कई देशों में खून के थक्के बनने की शिकायतें सामने आई थी. इसके बाद कुछ देशों ने इस वैक्सीन का टीकाकरण (Corona Vaccination) रोक दिया था. इसके बाद यूरोपीय दवा एजेंसी (EMA) ने मामले की जांच की. EMA के प्रमुख एमर कुक ने जांच के बाद कहा, 'यह एक सुरक्षित और प्रभावी टीका है. कोरोना से लोगों को मौत और अस्पताल में भर्ती होने के जोखिम से बचाता है.'

ये भी पढ़ें- वैक्सीन से Blood Clot की शिकायतों के बीच, कई और देशों ने लगाई AstraZeneca के इस्तेमाल पर अस्थायी रोक

WHO ने भी एस्ट्राजेनेका टीके की सिफारिश की

उन्होंने यह भी कहा कि बहुत गंभीर खून के थक्कों के विकारों और वैक्सीन के मामलों के बीच एक लिंक को खारिज नहीं किया जा सकता. इस मामले को समझने के लिए एजेंसी ने अतिरिक्त जांच शुरू की है. जिसका नतीजा सामने आने में वक्त लगेगा. फिलहाल की जांच में यह टीका सुरक्षित मिला है. लोगों को इस टीके को लगवाने के लिए आगे आना चाहिए. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने भी टीके के निरंतर उपयोग की सिफारिश की है.

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.