close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अमेरिका के कथित ड्रीमर्स आव्रजकों की मदद के लिए सदन ने विधेयक पारित किया

व्हाइट हाउस ने आगाह किया है कि अगर यह विधेयक राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की मेज तक पहुंचता है तो वह वीटो शक्ति का इस्तेमाल करेंगे. साथ ही सीनेट पर रिपब्लिकन्स का नियंत्रण है जो इसे बमुश्किल ही पारित करेंगे. 

अमेरिका के कथित ड्रीमर्स आव्रजकों की मदद के लिए सदन ने विधेयक पारित किया
सीनेट पर रिपब्लिकन्स का नियंत्रण है जो इसे बमुश्किल ही पारित करेंगे. (फाइल फोटो)

वॉशिंगटन : डेमोक्रेट के वर्चस्व वाले हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव्स ने मंगलवार को एक विधेयक पारित किया जो ऐसे लाखों आव्रजकों को नागरिकता दिलाने में मदद करेगा जिनके पास खुद को अमेरिकी नागरिक साबित करने के लिए वैध दस्तावेज नहीं हैं. हालांकि इस विधेयक के सीनेट से पारित होने की संभावना कम ही है. 

व्हाइट हाउस ने आगाह किया है कि अगर यह विधेयक राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की मेज तक पहुंचता है तो वह वीटो शक्ति का इस्तेमाल करेंगे. साथ ही सीनेट पर रिपब्लिकन्स का नियंत्रण है जो इसे बमुश्किल ही पारित करेंगे. 

इस विधेयक के जरिए तथाकथित “ड्रीमर्स” - ऐसे लोग जिन्हें बाल्यावस्था में अवैध रूप से अमेरिका लाया गया था- उन्हें स्थायी संरक्षण मिलेगा. इस विधेयक को हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव्स ने 187 के मुकाबले 237 मतों से पारित किया. 

साथ ही यह ड्रीमर्स तथा तथाकथित टेम्पररी प्रोटेक्टेड स्टेटस (टीपीएस)के तहत आने वाले लोगों को पूर्ण नागरिकता दिलाने की राह भी प्रशस्त करेगा. टीपीएस के तहत उन लोगों को संरक्षण दिया जाता है जो सशस्त्र संघर्ष या प्राकृतिक आपदा के कारण अपना देश छोड़ यहां आए हों. 

फिलहाल कई ड्रीमर्स को पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा द्वारा शुरू किए गए डीएसीए प्रोग्राम के तहत संरक्षण प्राप्त है. ट्रंप ने आव्रजन पर हमेशा से कड़ा रुख अपनाया है और ड्रीमर संरक्षण तथा टीपीएस दोनों को ही खत्म करने की दिशा में काम किया है. 

मंगलवार को पारित हुआ यह विधेयक करीब 16 लाख ऐसे ड्रीमर्स को वैधानिक दर्जा देगा जो ओबामा के डीएसीए कार्यक्रम से बाहर हैं.