नदी में फेंका गया जहरीला पदार्थ, निकला तेज धुआं और एक साथ बीमार पड़े कई लोग, सैकड़ों स्कूल बंद

एक लॉरी ने पिछले सप्ताह दक्षिणी जोहोर राज्य में यह अपशिष्ट फेंका था, जिससे पूरे क्षेत्र में खतरनाक तेज गन्ध वाला धुआं फैल गया.

नदी में फेंका गया जहरीला पदार्थ, निकला तेज धुआं और एक साथ बीमार पड़े कई लोग, सैकड़ों स्कूल बंद
फोटो साभार : ट्विटर/@Entail2

कुआलालंपुर: मलेशिया की एक नदी में जहरीला अपशिष्ट फेंके जाने के बाद हालात बिगड़ रहे हैं. नदी में जहरीला पदार्थ फेंके जाने के बाद बच्चों सहित सैकड़ों लोग बीमार पड़ गए हैं. इसके साथ ही 100 से ज्यादा स्कूल बंद कराए गए हैं. 

लोगों को हुई उल्टी जैसे कई तकलीफें
रिपोर्ट्स के मुताबिक, एक लॉरी ने पिछले सप्ताह दक्षिणी जोहोर राज्य में यह अपशिष्ट फेंका था, जिससे पूरे क्षेत्र में खतरनाक तेज गन्ध वाला धुआं फैल गया. इससे लोगों को उबकाई और उल्टी जैसी तकलीफ होने लगी. आधिकारिक समाचार एजेंसी ‘बरनामा’ के अनुसार 500 से अधिक लोगों का उपचार चल रहा है, जिनमें से अधिकतर स्कूल जाने वाले छात्र हैं. वहीं 160 से अधिक लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया.

43 स्कूल बंद करने का दिया आदेश
यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि यह किस प्रकार की जहरीली गैस थी. शिक्षा मंत्री मस्जली मलिक ने बुधवार को इलाके के 43 स्कूल बंद करने का आदेश दिया था लेकिन बाद में इससे दोगुने स्कूल बंद किए गए. उन्होंने एक बयान में कहा, ‘‘ शिक्षा मंत्रालय ने पैसिर गुडांग इलाके में तत्काल सभी 111 स्कूल बंद करने के आदेश दिए हैं. ’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘ शिक्षा मंत्रालय सभी से एहतियातन कदम उठाने का अनुरोध करता है.’’ इस सप्ताह की शुरुआत में जहरीला अपशिष्ट फेंकने के मामले में तीन व्यक्ति को गिरफ्तार भी किया गया था. इनमें से एक को जल्द अदालत में पेश किया जाएगा और पर्यावरण संरक्षण कानून का उल्लंघन करने का दोषी पाए जाने पर उसे पांच साल कैद तक की सजा हो सकती.

Input: Bhasha