बाइसन को मारने US में निकली 12 वेकेंसी, 45,000 से ज्‍यादा लोगों ने किया आवेदन!

अमेरिका के एक नेशनल पार्क में बाइसन की आबादी बहुत ज्‍यादा बढ़ गई है. उन्‍हें मारने के लिए स्किल्‍ड वॉलेंटियर्स की वेकेंसी निकाली गई है, जिसके लिए हजारों लोगों ने आवेदन दिए हैं. 

बाइसन को मारने US में निकली 12 वेकेंसी, 45,000 से ज्‍यादा लोगों ने किया आवेदन!
बाइसन (एएफपी)

वॉशिंगटन: अमेरिका के ग्रांड कैन्‍यन नेशनल पार्क में बाइसन की भारी आबादी से निपटने के लिए अधिकारियों ने इन्‍हें मारने स्किल्‍ड वॉलेंटियर्स की वेकेंसी निकाली है. चौंकाने वाली बात यह है कि यह वेकेंसी केवल 12 लोगों के लिए निकाली गई है, जबकि यह काम करने के लिए 45,000 से ज्‍यादा लोगों ने आवेदन किए हैं. 

नेशनल पार्क में प्रतिबंधित है शिकार 

वैसे तो अमेरिका के राष्‍ट्रीय उद्यानों में शिकार करना पूरी तरह प्रतिबंधित है, लेकिन बाइसन को इतने बड़े पैमाने पर मारने की इस तैयारी को शिकार करने की श्रेणी में नहीं रखा गया है. बल्कि इसे बाइसन की बेतहाशा बढ़ती आबादी को कम करने का एक कदम बताया गया है. बीबीसी ने अपनी रिपोर्ट में लिखा है कि यूएस नेशनल पार्क सर्विस (एनपीएस) ने इस काम के लिए 12 कुशल स्वयंसेवकों को आमंत्रित किया है. ताकि वे बाइसन की आबादी को कम करने में मदद कर सकें. सोमवार को यह जानकारी सामने आने के बाद 45,040 लोगों ने यह काम करने की इच्‍छा जताते हुए आवेदन दिए हैं.  

ये भी पढ़ें: Taiwan में जूडो मैच में 7 साल के बच्‍चे को 27 बार पटका जमीन पर, बाल शोषण पर छिड़ी बहस

VIDEO

पर्यावरणविदों ने जताई चिंता 

वहीं इसे लेकर पर्यावरणविदों ने चिंता जताई है कि ऐसा करना खतरनाक हो सकता है. वहीं अधिकारियों ने वॉलेंटियर्स के चयन करने को लेकर कहा है कि वे पहले 25 नामों को शॉर्टलिस्ट करेंगे. इसके बाद उनके स्किल्‍स की जांच की जाएगी. फिर पार्क के उत्तरी रिम क्षेत्र में बाइसन को मारने के लिए इनमें से 12 लोगों का चयन किया जाएगा.

अधिकारियों का कहना है कि पिछले कुछ सालों में बाइसन की तादाद तेजी से बढ़ी है, ऐसे में इन्‍हें मारने के लिए पायलट प्रोग्राम की जरूरत है. इनके झुंड में बाइसन की संख्‍या 600 तक पहुंच गई है, जिन्‍हें कम करके 200 तक लाने की योजना है. NPS को उम्‍मीद है कि इससे मिट्टी के कटाव और जल प्रदूषण को कम करने में मदद मिलेगी. 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.