Kim Jong-Un Pleasure Group: आपने नहीं देखा होगा किम जोंग-उन का ये रूप, लड़कियों के इस खास ग्रुप से बहलाता है दिल
topStories1hindi1465384

Kim Jong-Un Pleasure Group: आपने नहीं देखा होगा किम जोंग-उन का ये रूप, लड़कियों के इस खास ग्रुप से बहलाता है दिल

Kim Jong Un: प्लेजर ग्रुप खूबसूरत लड़कियों का ऐसा ग्रुप जो स्पेशली प्लेजर देने के लिए बनाया जाता है. इसे सेक्स पार्टी भी कहा जाता है. स्थानीय भाषा में इसे किप्पुमजो कहते हैं. इस ग्रुप में ज्यादातर लड़कियां 15 से 20 साल की उम्र वाली होती हैं. हालांकि कुछ लड़कियां 30 साल की भी हैं. 

Kim Jong-Un Pleasure Group: आपने नहीं देखा होगा किम जोंग-उन का ये रूप, लड़कियों के इस खास ग्रुप से बहलाता है दिल

What is Kim Jong-Un Pleasure Group: उत्तरी कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन को लेक एक चौंकाने वाला खुलासा हुआ है. अभी तक आपने इस तानाशाह का सख्त और क्रूर रवैया ही देखा और सुना होगा, लेकिन किम जोंग इन सबसे अलग डांस देखने का भी शौक रखता है, लेकिन डांस सिर्फ नाबालिग लड़कियों का. इस तानाशाह ने अपना मन बहलाने के लिए नाबालिग लड़कियों का एक प्लेजर ग्रुप भी बना रखा है. इस ग्रुप की लड़कियां किम जोंग उन के सामने डांस करके उसका दिल बहलाती हैं. आइए जानते हैं क्या है ये प्लेजर ग्रुप.

क्या है प्लेजर ग्रुप

प्लेजर ग्रुप खूबसूरत लड़कियों का ऐसा ग्रुप जो स्पेशली प्लेजर देने के लिए बनाया जाता है. इसे सेक्स पार्टी भी कहा जाता है. स्थानीय भाषा में इसे किप्पुमजो कहते हैं. इस ग्रुप में ज्यादातर लड़कियां 15 से 20 साल की उम्र वाली होती हैं. हालांकि कुछ लड़कियां 30 साल की भी हैं. यह ग्रुप 2 हजार लड़कियां का होता है.

तीन हिस्सों में बांटा जाता है

प्लेजर ग्रुप को तीन हिस्सों में बांटा जाता है. पहला सेक्सुअल सर्विसेज, दूसरा मसाज और तीसरा सेमी न्यूड सिंगिंग एंड डांसिंग का. कौन किस हिस्से में रहेगी ये उसकी उम्र और लुक के हिसाब से तय होता है. माना जाता है कि प्लेजर ग्रुप की शुरुआत किम जोंग उन के दादा किम II संग ने की थी. इसकी पुष्टि केंजी फुजिमोटो नाम के जापानी शेफ ने अपनी किताब में भी की है. उन्होंने लिखा, ‘प्लेजर ग्रुप की इन लड़कियों का काम लीडर के साथ बड़े अफसरों को खुश रखना है. ये बड़े अफसर लीडर के खास होते हैं जिन्हें पोलित ब्यूरो भी कहते हैं.’

इस तरह चुनी जाती हैं लड़कियां

इस ग्रुप के लिए लड़कियों को चुनने का तरीका भी खास है. किम जोंग उन के खास लोग स्कूली बच्चों पर नजर रखते हैं. उन्हें अगर कोई सुंदर और अच्छी लड़की नजर आती है तो उसे उठाकर इस ग्रुप में डाल दिया जाता है. इसके लिए न उससे पूछा जाता है और न ही उसके परिवार से. इसके बाद उन लड़कियों को ट्रेनिंग दी जाती है. ट्रेनिंग के बाद सबसे सुंदर लड़की को देश के लीडर के सामने पेश किया जाता है, जबकि बाकी लड़कियों को पोलित ब्यूरो के अन्य सदस्यों के सामने.

ये ख़बर आपने पढ़ी देश की नंबर 1 हिंदी वेबसाइट Zeenews.com/Hindi पर

Trending news