मूलर की नियुक्ति पर ट्रंप को लगा था कि 'यह उनके कार्यकाल का अंत है': रिपोर्ट

रिपोर्ट में बताया गया है कि ट्रंप को विशेष वकील के रूप में मूलर की नियुक्ति की जब खबर मिली थी तो उन्होंने अपना माथा पकड़ लिया था.

मूलर की नियुक्ति पर ट्रंप को लगा था कि 'यह उनके कार्यकाल का अंत है': रिपोर्ट
रिपोर्ट में यह स्पष्ट हो गया है कि रूस सरकार ने अमेरिकी चुनाव में हस्तक्षेप करने की कोशिश की थी

नई दिल्ली: अमेरिकी न्याय मंत्रालय में विशेष विशेष अधिवक्ता रहे रॉबर्ट मूलर की जांच रिपोर्ट से पता चला है कि उन्हें विशेष अधिवक्ता पद पर नियुक्त किए जाने पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की शुरुआती प्रतिक्रिया थी कि 'राष्ट्रपति के रूप में उनके कार्यकाल का अंत आ गया है'.

अमेरिकी अटार्नी जनरल विलियम बार ने बृहस्पतिवार को यह घोषणा की कि मूलर को दो साल की अपनी जांच में 2016 में हुए अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के दौरान रूस के हस्तक्षेप के संबंध में कोई सबूत नहीं मिला. जांच में इस बात के कोई सबूत नहीं मिले कि ट्रंप की चुनाव अभियान टीम के सदस्यों ने रूस के साथ कोई गठजोड़ किया था.

बार ने कहा कि रिपोर्ट में यह स्पष्ट हो गया है कि रूस सरकार ने अमेरिकी चुनाव में हस्तक्षेप करने की कोशिश की थी लेकिन उन्हें राष्ट्रपति ट्रंप या उनके चुनाव अभियान टीम से सहयोग नहीं मिला था.

रिपोर्ट में बताया गया है कि ट्रंप को विशेष वकील के रूप में मूलर की नियुक्ति की जब खबर मिली थी तो उन्होंने अपना माथा पकड़ लिया था. रिपोर्ट के अनुसार ट्रम्प ने मूलर की नियुक्ति की खबर सुनने के बाद कहा था, 'हे भगवान, यह बहुत बुरा है. यह मेरे राष्ट्रपति कार्यकाल का अंत है'.