close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अमेरिका के विदेश मंत्री बोले- पीएम मोदी की शानदार जीत से नहीं हुई हैरानी, पहले से पता था

माइक पोम्पियो ने कहा कि वह और उनकी टीम भारत में चुनाव पर नजर रखे हुए थे. 

अमेरिका के विदेश मंत्री बोले- पीएम मोदी की शानदार जीत से नहीं हुई हैरानी, पहले से पता था
अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो (फोटो साभार - पीटीआई)

वाशिंगटन: अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने कहा कि वह जानते थे कि नरेंद्र मोदी दोबारा भारत के प्रधानमंत्री बनेंगे और वह आम चुनाव में मोदी की शानदार जीत से हैरान नहीं हैं.

पोम्पियो ने बुधवार को यहां एक समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि वह और उनकी टीम भारत में चुनाव पर नजर रखे हुए थे और हमें भरोसा था कि प्रधानमंत्री मोदी दुनिया की सर्वाधिक आबादी वाले लोकतंत्र के नये तरह के नेता हैं.

'कुछ सप्ताह पहले ही वास्तव में ऐतिहासिक चुनाव हुआ'
उन्होंने ‘इंडिया आइडियाज समिट’ में कहा,‘कुछ सप्ताह पहले ही वास्तव में ऐतिहासिक चुनाव हुआ जिसमें 60 करोड़ भारतीयों ने इतिहास की सबसे बड़ी कवायद में हिस्सा लिया. और उन्होंने मोदी को बड़ा जनादेश दिया.’ सम्मेलन में गूगल के भारतीय-अमेरिकी सीईओ सुंदर पिचाई और भारत तथा अमेरिका के शीर्ष कॉर्पोरेट अधिकारियों ने भी भाग लिया.

उन्होंने कहा,‘परिणाम से कई पर्यवेक्षक हैरान थे लेकिन मैं साफ कहूं तो मैं हैरान नहीं हुआ. मैं करीब से चुनाव पर नजर रखे हुए था. विदेश विभाग में मेरी टीम भी देख रही थी.’

पोम्पियो ने कहा,‘1971 से कोई भी भारतीय प्रधानमंत्री एक पार्टी के बहुमत के साथ पद पर नहीं लौटा है. वह चाय विक्रेता के बेटे हैं जिन्होंने 13 साल तक एक राज्य का शासन संभाला और अब वाकई दुनिया की सबसे तेजी से उभरती महाशक्तियों में से एक का नेतृत्व संभाल रहे हैं.’

'प्रधानमंत्री को वोट देने वालों में सबसे ज्यादा युवा भारतीय थे'
उन्होंने कहा,‘गौर करने वाली बात है कि प्रधानमंत्री को वोट देने वालों में सबसे ज्यादा युवा भारतीय थे. यह हाल के चुनाव में उन्हें समर्थन देने वाला सबसे बड़ा समूह था. मैं सोचता हूं कि इससे अलग ही बात बयां होती है. यह बताता है कि भारतीय मतदाता सोचते हैं कि प्रधानमंत्री उन सभी के लिए एक नए, और अधिक समृद्ध भविष्य का रास्ता खोल सकते हैं, खोलेंगे.’

पोम्पियो ने नये विदेश मंत्री एस जयशंकर की भी तारीफ की और उन्हें अमेरिका के साथ गर्मजोशी वाले रिश्ते विकसित करने के लिए अच्छा समकक्ष बताया. पोम्पियो 24 से 30 जून तक भारत, श्रीलंका, जापान और दक्षिण कोरिया की यात्रा करेंगे.