Jyotish Upay: ये रत्न पहनने से बढ़ती है यौन शक्ति, खत्म होती है दांपत्य जीवन की नीरसता

Jyotish Upay: ओपल रत्न पति-पत्नी के विवादों को पल भर में दूर करने वाला बहुत ही चमत्कारिक रत्न है. शुक्र का संबंध विवाह से होता है, ओपल शुक्र ग्रह के प्रभाव को बढ़ाने के लिए धारण किया जाता है. हिंदी में ओपल को दूधिया पत्थर के नाम से भी जाना जाता है.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Nov 25, 2022, 09:53 AM IST
  • ओपल रत्न किसे धारण करना चाहिए?
  • ओपल से दाम्पत्य जीवन में आती है स्थिरता

ट्रेंडिंग तस्वीरें

Jyotish Upay: ये रत्न पहनने से बढ़ती है यौन शक्ति, खत्म होती है दांपत्य जीवन की नीरसता

नई दिल्ली: ओपल रत्न पति-पत्नी के विवादों को पल भर में दूर करने वाला बहुत ही चमत्कारिक रत्न है. शुक्र का संबंध विवाह से होता है, ओपल शुक्र ग्रह के प्रभाव को बढ़ाने के लिए धारण किया जाता है. हिंदी में ओपल को दूधिया पत्थर के नाम से भी जाना जाता है. ओपल तुला, वृषभ, लग्न वाले जातक या जिसकी कुंडली में शुक्र फलदायी नहीं होता, शुक्र का बल कम होता है, ऐसे जातक के लिए रत्न धारण करना बहुत ही लाभकारी होता है.

ओपल पत्थर क्या है?
ओपल पत्थर एक प्रकार के धातु से बना जैल है, जो बहुत ही कम तापमान पर चूना पत्थर, बलुआ पत्थर, आग्नेय चट्टान, मार्ल और बेसाल्ट जैसे चट्टान की दरारों में इकठ्ठा होने से बनता है. यह एक पारदर्शी रत्न है. यह सभी रंगों में सबसे रंगीन है और इसके इन्द्रधनुषी रंगों के कारण ये सभी रत्नों में सबसे अधिक सुन्दर दिखाई देता है. दाम्पत्य जीवन के सुख के लिए दूधिया रंग का ओपल पत्थर सबसे लाभदायक होता है.

ओपल रत्न किसे धारण करना चाहिए?
ज्योतिष के अनुसार ओपल रत्न शुक्र ग्रह के प्रभाव को बढ़ाने के लिए धारण किया जाता है. जिस जातक की जन्म कुंडली में तुला तथा वृषभ लग्न हो या जिसकी जन्म राशि तुला या वृषभ हो वह जातक ओपल रत्न बिना संकोच धारण कर सकता है. जिस व्यक्ति की कुंडली में शुक्र बलवान नहीं है, उस जातक को भी ओपल रत्न धारण कर अपने शुक्र को मजबूत करना चाहिए. कर्क और मकर लग्न की कुंडली वाले जातक भी ओपल रत्न धारण कर सकते है. ओपल रत्न को हीरा का सबस्टिीच्यूड माना जाता है.

दाम्पत्य जीवन में लाता है स्थिरता 
दाम्पत्य जीवन में या प्रेम संबंधों में यदि अकारण कलह, दरार, अनबन या अलगाव या तलाक की स्थिति उत्पन्न हो रही हो तो उस स्थिति में परेशान शादीशुदा जीवन में स्थिरता लाने के लिए ओपल रत्न धारण किया जाता है, इसे धारण करने से उत्पन्न विवादों को शीघ्र ही दूर किया जा सकता है. अधिकतर मामलों में ओपल रत्न धारण करने के कारण महिलाओं तथा पुरुषों के निजी जीवन में प्यार और रोमांस को पुनर्जीवित किया है. ओपल पहनने से पति-पत्नी, प्रेमी-प्रेमिका के बीच यदि खराब सम्बन्ध है, तो जल्दी से जल्दी ओपल धारण करना चाहिए. यह रत्न मान-सम्मान में वृद्धि करता है तथा उलझे हुए दाम्पत्य जीवन तथा प्रेम-संबंधों में मधुरता लाता है.

(Disclaimer: यहां दी गई सभी जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. Zee Hindustan इसकी पुष्टि नहीं करता है. किसी भी जानकारी को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह जरूर ले लें.)

यह भी पढ़िए- Horoscope 2023: इन तीन राशियों के लिए लकी होगा साल 2023, प्यार में मिलेगी सफलता

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

 

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़