अहमदाबाद में एक ही परिवार के 6 लोगों की संदिग्ध मौत से हड़कंप

अहमदाबाद में दो सगे भाइयों समेत उनके 4 बच्चों की मौत हो गयी. साथ ही दोनों भाइयों की मौत हो गयी. पूरे मामले की जांच में पुलिस जुट गई है.  

अहमदाबाद में एक ही परिवार के 6 लोगों की संदिग्ध मौत से हड़कंप

गांधीनगर: गुजरात के अहमदाबाद से हैरान करने वाली खबर मिली. शहर के ही एक कंपार्टमेंट में 6 लोगों के शव मिलने से चारों ओर हड़कम्प मच गया. पुलिस ने मामले की जांच तो शुरू कर दी है लेकिन पुलिस ने ये भी कहा है कि प्रथम दृष्टया ये मामला आत्महत्या का प्रतीत होता है. अहमदाबाद के एक फ्लैट में एक परिवार के 6 लोगों के शव बरामद किए गए हैं. पुलिस के मुताबिक, फ्लैट में खुदकुशी करने वाले इन लोगों में चार बच्चे भी शामिल हैं. इन सभी के शव घर की छत से लटके पाए गए. मृत बच्चों की उम्र 7 से 12 वर्ष के बीच है.

17 जून को अपने घर से निकले थे दोनों भाई

आपको बता दें मरने वाले दोनों शख्स आपस में सगे भाई हैं. अपने बच्चों के साथ ये लोग 17 जून को स्थानीय निवास से घुमने के लिए निकले थे. आज पुलिस ने इस घर में दो भाइयों के शव भी बरामद किए हैं, जिनकी उम्र 40 और 42 वर्ष है. पुलिस का मानना है कि दोनों ने पहले अपने बच्चों की हत्या की उसके बाद खुद भी आत्महत्या करके जान दे दी.

ये भी पढ़ें- राज्यसभा चुनाव: PPE किट पहनकर कोरोना संक्रमित विधायक ने डाला वोट

परिवारवालों ने शुरू की तलाश

जब ये लोग घर वापस नहीं लौटे तो परिवारवालों ने इन्हें खोजने की शुरुआत की. जब परिवार सब को ढूंढते हुए प्रयोसा उंस फ्लैट पर पहुंचे तो उन्होंने घर को अंदर से बंद पाया. इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई और जब दरवाजा खुला तो पुलिस को छह शव मिले. ये फ्लैट इन लोगों ने करीब ढाई वर्ष पहले खरीदा था.

पोस्टमार्टम के बाद साफ होगी तस्वीर

पुलिस ने सभी शवों को पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया है. माना जा रहा है जब पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलेगी तब पता चलेगा कि सभी की मृत्यु किस कारण से हुई. क्या इनकी मृत्यु में कोई हत्या जैसी साजिश है या ये आत्महत्या है. पूरे परिवार में दोनों भाइयों की मौत और बच्चों के शव एक ही फ्लैट से बरामद होना कई सवाल खड़े करता है.  बड़ी बात ये है कि दोनों भाइयों के शव ड्राइंग रूम में मिले जबकि बच्चों के शव किचेन में पाए गए. किचन में दो बच्चियों कीर्ति (7) और सान्वी (7) के शव बरामद किए गए. घर के एक दूसरे कमरे में मयूर (12) और ध्रुव (12) नाम के दो बच्चों के शव पंखे से लटके मिले थे.