जानिए भगोड़े नीरव मोदी और मेहुल चौकसी पर ED ने क्या की है बड़ी कार्रवाई

14000 हजार करोड़ रुपये के पीएनबी बैंक घोटाला मामले में ईडी दोनों आरोपितों के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत जांच कर रहा है. इसी एक्ट के तहत ही ईडी ने नीरव मोदी और मेहुल चोकसी की कंपनियों की ये बेशकीमती चीजें जब्त की हैं.

जानिए भगोड़े नीरव मोदी और मेहुल चौकसी पर ED ने क्या की है बड़ी कार्रवाई

नई दिल्लीः पिछले दिनों भगोड़े विजय माल्या को भारत लाए जाने की खबर भले ही खारिज हो गई थी, लेकिन प्रवर्तन निदेशालय को बैंक धोखाधड़ी के एक अन्य मामले में बड़ी सफलता हासिल हुई है. हीरा कारोबारी नीरव मोदी और मेहुल चोकसी के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की गई है. ईडी हांगकांग से 2300 किलो वजनी तराशे हुए हीरे और मोती भारत लेकर आया है. नीरव के भी प्रत्यर्पण की तैयारी जारी है. नीरव मोदी अभी लंदन में है. 

लंदन की जेल में बंद है नीरव मोदी
1350 करोड़ रुपये कीमत के ये हीरे--मोती नीरव मोदी और मेहुल चोकसी की कंपनियों से संबंधित हैं. नीरव व मेहुल के 108 खेप भारत लाई गई है. इनमें से 32 नीरव मोदी के हैं और 76 मेहुल चौकसी के हैं. ED पहले भी नीरव मोदी और मेहुल चौकसी के 33 अलग खेप भारत ला चुका है. जानकारी के मुताबिक इन्हें दुबई और हांगकांग से जब्त किया गया था. जिसकी कीमत 137 करोड़ थी. 

दोनों के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत चल रही है जांच
14000 हजार करोड़ रुपये के पीएनबी बैंक घोटाला मामले में ईडी दोनों आरोपितों के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत जांच कर रहा है. इसी एक्ट के तहत ही ईडी ने नीरव मोदी और मेहुल चोकसी की कंपनियों की ये बेशकीमती चीजें जब्त की हैं. दो दिन पहले ही यानी 8 जून को ही मुंबई की स्पेशल PMLA कोर्ट ने नीरव मोदी की 1400 करोड़ की संपत्ति को जब्त करने का आदेश दिया था.

भयानक हो गई असम की आग, दो की मौत, एक दमकलकर्मी लापता, 1600 लोग प्रभावित

हांगकांग भेज दिया था कंसाइनमेंट
जब PNB घोटाले के आरोपी नीरव मोदी और मेहुल चौकसी के खिलाफ मामला दर्ज कर एजेंसी ने जांच शुरू की थी तो दोनों आरोपियों ने इस सामान को दुबई से हांगकांग भेज दिया था. नीरव मोदी और मेहुल चौकसी के इस सामान को हांगकांग भेजे जाने के बारे में ED को जुलाई 2018 में पता चल गया था. इसके बाद से ही लगातार हांगकांग सरकार और वहां की एजेंसी से इस सामान को भारत वापस लाने की कोशिश की जा रही थी जिसमें बुधवार को सफलता मिली 

अभी मेहुल चौकसी ने एंटिगा की नागरिकता ले ली है और वहां छिपा हुआ है.  नीरव अभी लंदन में है और उसके भारत प्रत्यर्पण की कानूनी कार्रवाई चल रही है. दोनों आरोपित वांछित भगोड़े हैं.

जामा मस्जिद के शाही इमाम बुखारी के सचिव की कोरोना संक्रमण से मौत