कानपुट शूटआउट केस में साजिश से उठ रहा है 'पर्दा'! 5 बड़े खुलासे

कानपुर में खाकी के दुश्मन और गद्दारों की साजिश सामने आ रही है. एक के बाद एक लगातार खुलासे हो रहे हैं. आपको ऐसे ही 5 अहम खुलासों से रूबरू करवाते हैं, जिससे ये गुत्थी सुलझती दिखाई देगी..

कानपुट शूटआउट केस में साजिश से उठ रहा है 'पर्दा'! 5 बड़े खुलासे

नई दिल्ली: कानपुर एनकाउंटर मामले में हर पल चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं. जिसके बाद ये पूरा केस थोड़ा सुलझ रहा है और थोड़ा उलझ रहा है. क्योंकि 8 पुलिसकर्मियों की हत्या का मुख्य आरोपी विकास दुबे अभी तक फरार है.

कानपुर एनकाउंटर पर 5 बड़े खुलासे

उत्तर प्रदेश पुलिस की खाकी वर्दी को खून से रंगने वाले अपराधियों और खाकी के कुछ गद्दारों की करतूत को लेकर लगातार खुलासे हो रहे हैं. आपको ऐसे ही 5 मुख्य खुलासे से रूबरू करवाते हैं.

खुलासा नंबर 1). शहीद CO देवेंद्र मिश्रा ने की थी SO विनय तिवारी की शिकायत

कानपुर के हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे पर बड़ा खुलासा हुआ है कि विकास दुबे मामले में शहीद सीओ देवेंद्र मिश्रा ने तत्कालीन SSP को पत्र लिखा था. शहीद सीओ ने चौबेपुर के निलंबित एसओ विनय तिवारी के खिलाफ शिकायत भी की थी. आपको वो लेटर देखना चाहिए जिसे खुग CO देवेंद्र मिश्रा ने लिखा था.

चिट्ठी में एसओ विनय तिवारी का विकास दुबे से मिलीभगत का जिक्र किया गया था. एनकाउंटर में चौबेपुर के थाना प्रभारी रहे विनय तिवारी की भूमिका संदिग्ध बताई गई थी. फिलहाल विनय तिवारी सस्पेंड है.

खुलासा नंबर 2). विकास दुबे की पत्नी को थी अपने पति के गुनाहों की पूरी जानकारी

हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे की पत्नी ऋचा दुबे पर बड़ा खुलासा हुआ है. सूत्रों के हवाले से ये जानकारी सामने आई है कि विकास दुबे के हर अपराध में पत्नी ऋचा दुबे मददगार थी. पत्नी ऋचा को विकास दुबे के हर अपराध के बारे में पूरी जानकारी रहती थी.

इतना ही नहीं सूत्रों के हवाले से तो ये भी जानकारी सामने आई है कि विकास दुबे की ज्यादातर संपत्ति उसकी पत्नी ऋचा दुबे के नाम पर थी. बिकरु गांव में बने घर के बाहर लगे सीसीटीवी रिचा के मोबाइल से भी कनेक्ट थे, जब कभी विकास को पुलिस उठाती थी तो रिचा सोशल मीडिया पर सीसीटीवी फुटेज वायरल कर देती थी. विकास दुबे की पत्नी ऋचा लखनऊ में रहती है.

खुलासा नंबर 3). मुठभेड़ की रात पुलिसकर्मियों को बम से उड़ाने की थी साजिश

तीसरा अहम खुलासा ये हुआ है कि विकास दुबे ने घर में विस्फोटक जमा किया था. जिससे पुलिसकर्मियों को बम से उड़ाने की साजिश थी. जानकारी के अनुसार नक्सलियों की तरह घर को विस्फोट से उड़ाने की साजिश थी.

आपको बता दें कि विकास दुबे के घर से 2 किलो विस्फोटक बरामद हुआ है. साथ ही उसके घर से तमंचे, कारतूस, ज़िंदा बम मिले हैं और उसके घर में बंकर बना रखा था.

खुलासा नंबर 4). पुलिस के दबिश देने के पहले विकास के पास थाने से आया था फोन

चौथा अहम खुलासा ये हुआ कि पुलिस की दबिश से पहले विकास दुबे के पास थाने से फोन आया था और फिर थाने से फोन आने के बाद ही अपराधि विकास ने बदमाशों को बुलाया था. इस बात का खुलासा विकास दुबे के साथी दयाशंकर ने किया है. वहीं इस मामले में SSP ने कार्रवाई करते हुए चौबेपुर थाने के ही 3 और पुलिसकर्मियों को भी निलंबित किया गया.

किन-किन तीन पुलिसकर्मियों की कॉल डिटेल में विकास दुबे से बात का रिकॉर्ड? जानिए

बताया जा रहा है तीनों पुलिसकर्मियों सब इंस्पेक्टर कुंवरपाल, कृष्णकांत और कॉस्टेबल विकास की कॉल डिटेल में विकास दुबे से बात का रिकॉर्ड सामने आया है. जिसके बाद इन तीनों पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई की गई है.

खुलासा नंबर 5). मुठभेड़ के दौरान विनय तिवारी ने थाने से फोन करके कटवाई थी बिजली

वारदात से पहले विकास दुबे के गांव में बिजली काटी गई थी. बिजली काटने के लिए थाने से फोन गया था, जिसे लेकर ये सवाल उठ रहा था कि इसके पीछे कौन शामिल है. इस मामले में ये खुलासा हुआ है कि खुद विनय तिवारी ने थाने से फोन करके बिजली कटवाई थी.

आपको बता दें, शिवली सब स्टेशन में बिजली काटने के लिए फोन आया था. विनय तिवारी ने थाने से फोन किया था. इसे लेकर विनय तिवारी का बयान भी सामने आ चुका है.

बड़ा खुलासा: SO विनय तिवारी ने फोन करके कटवाई थी गांव की बिजली, जानिए वजह

हर कोई इस सवाल का जवाब तलाश रहा है कि आखिरकार विकास दुबे कानून के हत्थे कब चढ़ेगा? इस बीच हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे पर इनाम की रकम बढ़ा दी गई है. इनाम की राशि 1 लाख से बढ़ाकर 2.5 लाख की गई. लेकिन विकास दुबे अब तक पुलिस की गिरफ्त से बाहर है.

इसे भी पढ़ें: हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के इस वायरल वीडियो ने भाजपा की मुश्किलें बढ़ा दी

इसे भी पढ़ें: विकास दुबे के साथ "वायरल कनेक्शन" पर भाजपा MLA भगवती सागर की सफाई