• कोरोना वायरस पर नवीनतम जानकारी: भारत में संक्रमण के सक्रिय मामले- 6,07,384 और अबतक कुल केस- 20,27,075: स्त्रोत PIB
  • कोरोना वायरस से ठीक / अस्पताल से छुट्टी / देशांतर मामले: 13,78,106 जबकि मरने वाले मरीजों की संख्या 41,585 पहुंची: स्त्रोत PIB
  • कोविड-19 की रिकवरी दर 67.62% से बेहतर होकर 67.98% पहुंची; पिछले 24 घंटे में 49,769 मरीज ठीक हुए
  • कोविड से जुड़ी प्रमुख खबर: लगातार तीसरे दिन 6 लाख से अधिक कोविड-19 नमूने की जांच हुई
  • आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय ने आवासीय संपत्ति खरीदने के लिए भारत का पहला ई-कॉमर्स पोर्टल लॉन्च किया। विजिट करें:
  • भारतीय रेलवे ने आज से एक विशेष साप्ताहिक पार्सल ट्रेन #KisanRail की शुरुआत की
  • समय पर कृषि उत्पादों को बाजार तक पहुंचाने में मदद मिलेगी
  • भारतीय खेल प्राधिकरण ने प्रिंसिपलों, शारीरिक शिक्षा शिक्षकों के लिए खेलो इंडिया मोबाइल ऐप (KIMA) ऑनलाइन ट्रेनिंग की शुरुआत की
  • NHAI में डेटा आधारित निर्णय में आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस के उपयोग पर उत्कृष्टता केंद्र स्थापित करने के लिए समझौता
  • आईआईटी दिल्ली के साथ भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) ने समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया

PNB के साथ फिर हुआ घोटाला, जानिए इस बार कौन है गुनाहगार

जानकारी के मुताबिक, पंजाब नेशनल बैंक ने RBI को  3,688.58 करोड़ रुपये के घोटाले के बाबत जानकारी दी है. यह घोटाला DHFL (दीवान हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड) से जुड़ा हुआ है. 

PNB के साथ फिर हुआ घोटाला, जानिए इस बार कौन है गुनाहगार

नई दिल्ली:  बैंकों के साथ धोखाधड़ी और चूना लगाने के मामलों ने आर्थिक अपराधों में बढ़ोतरी की है. एक के बाद एक बैंकों के साथ घपले सामने आ रहे हैं. कई मुखौटा कंपनियां इसमें इन्वॉल्व हैं. ऐसे ही एक और मामले की जानकारी PNB ने रिजर्व बैंक को दी है. पंजाब नैशनल बैंक के साथ पहले भी घोटाले सामने आए हैं. नीरव मोदी का घोटाला इनमें प्रमुख है. अब DHFL के साथ एक और मामला सामने आया है. 

रिजर्व बैंक को दी है जानकरी
जानकारी के मुताबिक, पंजाब नेशनल बैंक ने RBI को  3,688.58 करोड़ रुपये के घोटाले के बाबत जानकारी दी है. यह घोटाला DHFL (दीवान हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड) से जुड़ा हुआ है. बैंक ने गुरुवार को बताया कि इस बाबत रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया को सूचित किया गया है.

DHFL पहले ही अपनी मुखौटा कंपनियों के जरिए 31,000 करोड़ रुपये की हेराफेरी में सुर्खियों में आ चुकी है. तब कंपनी ने  97,000 करोड़ रुपये का बैंक कर्ज लिया था. 

DHFL पहले से वित्तीय अपराधों में फंसी है
रिजर्व बैंक ने पिछले साल नवंबर में समस्या में फंसी आवास ऋण देने वाली कंपनी डीएचएफएल को ऋण शोधन कार्यवाही के लिये भेजा था. कंपनी में पिछले साल नियमों के कथित उल्लंघन की रिपोर्ट के बाद एसएफआईओ समेत विभिन्न एजेंसियों ने जांच शुरू की.

इसके पहले भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी ने पंजाब नेशनल बैंक में हजारों करोड़ की धोखाधड़ी की थी. यह घोटाला लगभग 14 हजार करोड़ का था. इस घोटाले में नीरव के साथ उसके मामा मेहुल चोकसी को भी आरोपी बनाया गया था. इस घोटाले के सामने आने के बाद बैंक की रेपो पर भी असर पड़ा था.