क्या आज भी रंगभेद की शिकार हो रही हैं प्रियंका चोपड़ा? लोग करते हैं घृणा

प्रियंका चोपड़ा जोनस (Priyanka Chopra) ने अपनी बेहतरीन अदाकारी के दम पर भारतीय सिनेमा से लेकर हॉलीवुड (Hollywood) तक एक खास पहचान हासिल की है. हालांकि, अब भी प्रियंका को कई मुश्किलें झेलनी पड़ती हैं.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Mar 3, 2021, 03:37 PM IST
  • अभिनेत्री प्रिंयका चोपड़ा आज ग्लोबल आइकन बन चुकी हैं
  • आज भी प्रियंका को फैंस की ओर से मुश्किलें झेलनी पड़ती हैं
क्या आज भी रंगभेद की शिकार हो रही हैं प्रियंका चोपड़ा? लोग करते हैं घृणा

नई दिल्ली: बॉलीवुड अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा जोनस (Priyanka Chopra) ने अपनी बेहतरीन अदाकारी के दम पर भारतीय सिनेमा से लेकर हॉलीवुड (Hollywood) तक एक खास पहचान हासिल की है. कई लड़कियां उनसे प्रेरित होकर जीवन में सफलता हासिल करती हैं. हालांकि, ग्लोबल आइकन बन चुकीं प्रियंका को आज भी कई मुश्किलों का सामना करना पड़ता है. लोग आज भी उनकी निंदा करते हैं.

नकारात्मकता करना पड़ता है सामना

हाल ही में प्रियंका ने अपने एक इंटरव्यू में बताया है कि कई बार ऐसा भी हुआ है, जब दक्षिण एशियाई लोगों की ओर से ही उन्हें नकारात्मकता का सामना करना पड़ा है. अभिनेत्री ने कहा, "मैंना देखा है कि कई लोग मुझे लेकर बचाव का रवैया अपनाते हैं, वह मुझे पसंद करते हैं, लेकिन बहुत सारे लोग ऐसे हैं जिनमें मेरे लिए घृणा या निंदा की भावना है."

ये भी पढ़ें- श्रद्धा कपूर ने बर्थडे पर पापा शक्ति कपूर से मांगा अनोखा गिफ्ट

अपने ही समुदाय के लोग करते हैं ये काम

प्रियंका ने आगे कहा, "ये लोग मुझे लेकर नकारात्मक हैं और वो भी बिना किसी कारण के. कुछ महीनों पहले इस बारे में मैं मिंडी (कालिंग) से बात कर रही थी कि ऐसा क्यों होता है.

वह मुझसे बोली कि ऐसा क्यों है कि तुम्हें अपने ही समुदाय के लोगों की नकारात्मक का सामना करना पड़ता है?"

ब्राउन कलर के लोग कम 

प्रियंका ने कहा, "एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में ब्राउन कलर के बहुत कम लोग हैं. आप मुझ जैसे लोगों की गिनती उंगलियों पर कर सकते हैं. इतना ही नहीं हम अपने जैसे लोगों के लिए ज्यादा से ज्यादा मौके पैदा करने के लिए काम कर रहे हैं. फिर भी हमारे लिए इतनी नकारात्मकता क्यों है? जब मैंने हॉलीवुड में काम करना शुरू किया तो मुझे इसका ज्यादा एहसास हुआ."

प्रशंसकों के बीच अंतर देखना शुरू किया

'बेवॉच' अदाकारा ने कहा, "मुझे समझ आया कि लोगों की चेतना इस बात के लिए गवारा नहीं करती कि हॉलीवुड शो के महिला या पुरुष के प्रमुख रोल में कोई भारतीय हो. मैंने उन प्रशंसकों के बीच अंतर देखना शुरू कर दिया है जो मुझे जानते हैं और मेरे लिए सुरक्षात्मक हैं और यही लोग मेरे सपनों को उड़ान देते हैं. जबकि दूसरा पक्ष मुझे निराश और हतोत्साहित महसूस कराता है."

ये भी पढ़ें- तापसी पन्नू, अनुराग कश्यप और विकास बहल के घर Income Tax विभाग का छापा

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़