CAA पर संदेह दूर करने के लिए भाजपा करेगी 1000 रैलियां

नागरिकता संशोधन कानून यानी CAA पर बवाल बढ़ता जा रहा है. जिसे देखते हुए शनिवार को दिन में भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने सभी प्रदेशों के संगठन महासचिवों, प्रवक्ताओं और पार्टी के पदाधिकारियों के साथ बैठक की. इस बैठक में ये तय किया गया कि पार्टी विपक्ष के झूठ के बेनकाब करने के लिए सीधे जनता के बीच पहुंचकर असलियत बताएगी. 

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Dec 21, 2019, 08:39 PM IST
    • भाजपा करेगी 1000 रैलियां
    • CAA पर जनता का भ्रम दूर करेगी
    • 3 करोड परिवारों से मिलेंगे भाजपा नेता
    • नागरिकता संशोधन कानून समझाने के लिए भाजपा की मुहिम
CAA पर संदेह दूर करने के लिए भाजपा करेगी 1000 रैलियां

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून यानी CAA पर बवाल बढ़ता जा रहा है. जिसे देखते हुए शनिवार को दिन में भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने सभी प्रदेशों के संगठन महासचिवों, प्रवक्ताओं और पार्टी के पदाधिकारियों के साथ बैठक की. इस बैठक में ये तय किया गया कि पार्टी विपक्ष के झूठ के बेनकाब करने के लिए सीधे जनता के बीच पहुंचकर असलियत बताएगी. 

3 करोड़ परिवारों से मिलेंगे भाजपा नेता
भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने 10 दिनों के संपर्क अभियान में 3 करोड़ परिवारों तक पहुंच बनाने की योजना बनाई है. भाजपा  का मानना है कि विपक्ष लगातार जनता में अफवाह और भ्रम फैला रहा है. खासतौर से मुस्लिम तबके में बड़े पैमाने पर अफवाह फैलाई जा रही है कि उनको देश से निकाल दिया जाएगा.

इसलिए अब सरकार के साथ कंधे से कंधा मिलाने के लिए भाजपा अपने कार्यकर्ताओं को जनता के बीच उतारना शुरू करेगी.

विपक्ष के नेताओं पर लगाया भड़काने का आरोप

शनिवार की बैठक के बाद भाजपा  महासचिव भूपेंद्र यादव ने कहा कि देश में विपक्ष इस ऐक्ट पर भ्रम फैलाने का काम कर रहा है. उन्होंने कहा कि बिहार में कांग्रेस की सहयोगी आरजेडी ने आंदोलन के दौरान हिंसा की.  क्या कांग्रेस इस तरह हिंसा की राजनीति का समर्थन करती है? 

पिछले एक सप्ताह से कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी पार्टियां सरकार के खिलाफ सड़कों पर विरोध प्रदर्शन कर रही हैं. कई राज्यों के कई विश्वविद्यालयों में प्रदर्शन हुए हैं. 

भाजपा  कह रही है कि कांग्रेस के नेता लगातार लोगों को भड़का रहे हैं और सीएए और एनआरसी पर भ्रम फैला रहे हैं.

भाजपा का मानना है कि नागरिकता संशोधन कानून के माध्यम से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में धार्मिक प्रताड़ना के शिकार हुए अनेकों लोगों को नई आशा, विश्वास, सुरक्षा, आस्था, गरिमापूर्ण जीवन देने का मार्ग प्रशस्त हुआ है.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़